श्री विष्णु चालीसा -Shri Vishnu Chalisa

Shri Vishnu Chalisa

श्री विष्णु चालीसा – Shri Vishnu Chalisa दोहा विष्णु सुनिए विनय सेवक की चितलाय। कीरत कुछ वर्णन करूं दीजै ज्ञान बताय। चौपाई नमो विष्णु भगवान खरारी। कष्ट नशावन अखिल बिहारी॥ प्रबल जगत में शक्ति तुम्हारी। त्रिभुवन फैल रही उजियारी॥ सुन्दर रूप मनोहर सूरत। सरल स्वभाव मोहनी मूरत॥ तन पर पीतांबर … Read Full

श्री कृष्णा चालीसा – Shri Krishna Chalisa

Shri Krishna Chalisa

श्री कृष्णा चालीसा – Shri Krishna Chalisa   कृष्ण चालीसा एक भक्ति गीत है जो भगवान कृष्ण पर आधारित है। कृष्ण चालीसा एक लोकप्रिय प्रार्थना है जो 40 छन्दों से बनी है। कई लोग जन्माष्टमी सहित भगवान कृष्ण को समर्पित अन्य त्योहारों पर कृष्ण चालीसा का पाठ करते हैं। ॥ … Read Full

श्री साईं चालीसा – Sri Sai Chalisa

sri sai chalisa

श्री साईं चालीसा – Sri Sai Chalisa   पहले साईं के चरणों में, अपना शीश नमाऊं मैं। कैसे शिरडी साईं आए, सारा हाल सुनाऊं मैं॥ कौन है माता, पिता कौन है, ये न किसी ने भी जाना। कहां जन्म साईं ने धारा, प्रश्न पहेली रहा बना॥ कोई कहे अयोध्या के, … Read Full

माँ विन्धेश्वरी चालीसा – Maa Vindheshwari Chalisa

Maa Vindheshwari Chalisa

माँ विन्धेश्वरी चालीसा – Maa Vindheshwari Chalisa || दोहा || नमो नमो विंध्येश्वरी, नमो नमो जगदंब। संत जनों के काज में बिलंब॥ || चौपाई || जय जय जय विन्ध्याचल रानी। सत्ता जगदीत भवानी॥ सिंह वाहिनी जय जगमाता। जय जय जय त्रिभुवन सुखदाता॥ अदन निवारिन जय जय देवी। जय जय संत … Read Full

श्री राधा चालीसा – Shri Radha Chalisa

Shri Radha Chalisa

श्री राधा चालीसा – Shri Radha Chalisa ।।दोहा।। श्री राधे वुषभानुजा , भक्तनि प्राणाधार । वृन्दाविपिन विहारिणी , प्रानावौ बारम्बार ।। जैसो तैसो रावरौ, कृष्ण प्रिय सुखधाम । चरण शरण निज दीजिये सुन्दर सुखद ललाम ।। ।।चौपाई।। जय वृषभानु कुँवरी श्री श्यामा, कीरति नंदिनी शोभा धामा ।। नित्य बिहारिनी रस … Read Full

माँ शीतला चालीसा – 0 Maa Sheetla Chalisa

माँ शीतला चालीसा - 0 Maa Sheetla Chalisa

माँ शीतला चालीसा – 0 Maa Sheetla Chalisa दोहा :- जय जय माता शीतला तुमही धरे जो ध्यान। होय बिमल शीतल हृदय विकसे बुद्धी बल ज्ञान।।  घट घट वासी शीतला शीतल प्रभा तुम्हार। शीतल छैंय्या शीतल मैंय्या पल ना दार।। चौपाई :- जय जय श्री शीतला भवानी। जय जग जननि … Read Full