इतिहास

इतिहास शब्द यूनानी / ग्रीक भाषा के शब्द Historia से बना है जिसका मतलब होता है – छानबीन करके या खोजबीन करके जो भी Information प्राप्त होती है उसे ही Greek Language में Historia कहा जाता है। सबसे पहले Herodotus नाम के यूनानी व्यक्ति ने Herodotus नामक Book लिखकर अतीत में हुई घटनाओँ की जानकारी दी। History लिखने का काम सबसे पहले Herodotus ने किया इसलिए इसे इतिहास का पिता या Father Of History भी कहा जाता है। इतिहास के मुख्य आधार युगविशेष और घटनास्थल के वे अवशेष हैं जो किसी न किसी रूप में प्राप्त होते हैं। जीवन की बहुमुखी व्यापकता के कारण स्वल्प सामग्री के सहारे विगत युग अथवा समाज का चित्रनिर्माण करना Refractory है। सामग्री जितनी ही अधिक होती जाती है उसी अनुपात से बीते युग तथा समाज की रूपरेखा प्रस्तुत करना साध्य होता जाता है। पर्याप्त साधनों के होते हुए भी यह नहीं कहा जा सकता कि Imaginative चित्र निश्चित रूप से शुद्ध या सत्य ही होगा। इसलिए उपयुक्त कमी का ध्यान रखकर कुछ विद्वान् कहते हैं कि इतिहास की संपूर्णता असाध्य सी है, फिर भी यदि हमारा Experience और ज्ञान प्रचुर हो, ऐतिहासिक सामग्री की Investigation को हमारी कला तर्कप्रतिष्ठत हो तथा कल्पना संयत और विकसित हो तो अतीत का हमारा चित्र अधिक मानवीय और प्रामाणिक हो सकता है। सारांश यह है कि इतिहास की रचना में पर्याप्त सामग्री, वैज्ञानिक ढंग से उसकी जाँच, उससे प्राप्त ज्ञान का महत्व समझने के विवेक के साथ ही साथ ऐतिहासक कल्पना की शक्ति तथा सजीव चित्रण की क्षमता की आवश्यकता है। स्मरण रखना चाहिए कि इतिहास न तो साधारण परिभाषा के अनुसार विज्ञान है और न केवल काल्पनिक दर्शन अथवा साहित्यिक रचना है। इन सबके यथोचित संमिश्रण से History का स्वरूप रचा जाता है।

5 Results

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी क्यों मनाया जाता है? Why is Republic Day celebrated on 26 January?

गणतंत्र दिवस (Republic day) भारत के सबसे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय अवकाशों में से एक है। यह सबसे अधिक Possibility इस तथ्य के कारण है कि हमारा देश इसी दिन गणतंत्र बना […]

शिव को बेलपत्र इतने प्रिय क्यों है

नारद जी ने एक बार भोलेनाथ की स्तुति कर पूछा – प्रभु आपको प्रसन्न करने के लिए सबसे उत्तम और सुलभ साधन क्या है. हे त्रिलोकीनाथ आप तो निर्विकार और […]

भगवान शिव के 35 रहस्य

भगवान शिव अर्थात पार्वती के पति शंकर जिन्हें महादेव, भोलेनाथ, आदिनाथ आदि कहा जाता है, उनके बारे में यहां प्रस्तुत हैं 35 रहस्य। 1. आदिनाथ शिव सर्वप्रथम शिव ने ही […]

मन्दिर में ध्वजा क्यों चढ़ाई जाती है और क्या है उसका महत्व ?

सनातन हिन्दू धर्म में ऐसा माना जाता है कि बिना ध्वजा (ध्वज, पताका, झण्डा) के मन्दिर में असुर निवास करते है इसलिए मन्दिर में सदैव ध्वजा लगी होनी चाहिए । […]

फेसबुक के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य | Interesting Information and Facts about Facebook

फ़ेसबुक से जुड़े रोचक तथ्य | Facebook se Jude Rochak Tathya फ़ेसबुक का use तो हम सब करते हैं। करते हैं ना? हालांकी इंस्टाग्राम के आने के बाद थोड़ा-सा कम […]