Monday, July 4, 2022
HomeIPOAdani Wilmar - कमाई का मौका Upcoming IPO 2022

Adani Wilmar – कमाई का मौका Upcoming IPO 2022

Adani Wilmar -कमाई का मौका, अडानी विल्मर लाएगी Rs. 4500 करोड़ रुपये के IPO- जानिए इस ब्लॉग में की क्या है कंपनी का आगे का प्लान!

Adani Wilmar IPO: Adani Wilmar का आईपीओ (IPO) दिसंबर महीने (December months) के दूसरे हफ्ते में बाजार (Market) में लॉन्च (Launch) हो सकता है। अडाणी विल्मर (Adani Wilmar) का आईपीओ (IPO) Rs. 4500 Cr  करोड़ रुपये का होगा।  और ये यह पूरी तरह फ्रेश इश्यू (Fresh issue) होगा। कंपनी (Company)  आईपीओ (IPO) से जुटाये जाने वाले रकम से कर्ज (Loan) वापस करने के साथ कारोबार (Business) को पंख देने में लगायेगी।

Rs.4500 करोड़ रुपये में 1900 करोड़ रुपये कैपिटल (Capital) एक्सपेंडीचर (Expenditure) के मद में, Rs.500 करोड़ रुपये (Crore Rupee) अधिग्रहण में और बाकी बचे रकम के जरिये कर्ज वापस किया जाएगा। आपको बता दें अडाणी विल्मर (Adani Wilmar) अडाणी एंटरप्राइजेज (Adani Enterprises) और विल्मर ग्रुप (Wilmar Group) का ज्वाइंट वेंचर (Joint venture) जिसमें दोनों की 50:50 फीसदी की हिस्सेदारी है। मार्केट रेग्युलेटर (Market Regulator) SEBI ने अडाणी विल्मर (Adani Wilmar) को पहले ही आईपीओ (IPO) लाने की मंजूरी दे दी है।

अडानी इंटरप्राइजेज (Adani Enterprises) ने अदानी पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड (APL) नाम से पूर्ण स्वामित्व वाली एक नई इकाई(Unit) बनाई है। यह इकाई APL रिफाइनरी, पेट्रोकेमिकल कॉन्प्लेक्स (Petrochemical complex)) और स्पेशलिटी केमिकल्स यूनिट (Specialty complex unit) लगाएगी। अब तक इस कारोबार में मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) का प्रभुत्व रहा है।

जून 2021 में अडानी ग्रुप (Adani Group) की कंपनियों (Companies) के शेयरों (Share) में गिरावट का सिलसिला बुधवार (Wednesday) को भी जारी रहा। इससे ग्रुप के चेयरमैन (Chairman) गौतम अडानी (Gautam Adani) की नेटवर्थ में 1.49 अरब डॉलर की गिरावट आई।

गौतम अडानी (Gautam Adani) की एक और कंपनी (Company)

अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड(Adani enterprises Ltd) और विल्मर इंटरनेशनल लिमिटेड(Vilmar international Ltd)  के संयुक्त उपक्रम Adani-Wilmar ने सोमवार को शेयर बाजार (Share market)  नियामक सेबी के पास ड्राफ्ट रेड हेयरिंग प्रोस्पेक्ट्स (DRHP) दाखिल कर दिया है। अडानी ग्रुप(Adani Group) की फ्लैगशिप (Flagship) कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज (Adani enterprises) ने सोमवार को शेयर बाजार को दी गई एक जानकारी में यह घोषणा की है। अडानी विल्मर (Adani Wilmar) के पास फॉर्चून (Fortune) जैसे खाद्य तेल के ब्रांड है।

अडानी विल्मर (Adani Wilmar) का फ्रेश इश्यु (Fresh issue)

शेयर बाजार(Share market) नियामक सेबी को दी गई जानकारी में अडानी एंटरप्राइजेज (Adani enterprises) ने कहा, “अडानी विल्मर लिमिटेड (AWL) की शेयर बाजार (Share Mart) में प्रस्तावित लिस्टिंग (Listing) में नए इक्विटी शेयर (Equity share) के फ्रेश इश्यु शामिल होंगे। अडानी विल्मर लिमिटेड (AWL) 4500 करोड़ रुपये के नए इक्विटी शेयर (Equity share) जारी करने जा रहा है। अडानी विल्मर लिमिटेड (AWL) का यह आईपीओ करीब $60 करोड़ का होगा। अडानी विल्मर लिमिटेड (AWL) कोई सेकेंडरी ऑफरिंग (Offerings) नहीं करने जा रही है।

फंड का उपयोग कहां (Use if Funds)

इससे पहले मार्च 2021 में खबरें आई थी कि अडानी ग्रुप (Adani group) अपने एफएमसीजी ज्वाइंट वेंचर (MSCG joint venture) को शेयर बाजार में लिस्ट (List) कराने की योजना बना रहा है। अडानी (Adani) ने कहा कि आईपीओ (IPO) के माध्यम से जुटाए जाने वाले फंड(Fund) को अडानी विल्मर लिमिटेड (Wilmar Adani Ltd) के कारोबारी विस्तार से जुड़े पूंजीगत खर्च में उपयोग किया जाएगा। अडानी विल्मर लिमिटेड की मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी (Manufacturing facilities) की क्षमता बढ़ाने और नई यूनिट (New unit) लगाने में इस रकम का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके साथ ही कर्ज के भुगतान, रणनीतिक निवेश और सामान्य कार्पोरेट पर्पस के लिए इस फंड (Fund) का इस्तेमाल किया जाएगा।

सबसे बड़ी फूड कंपनी (Big Food Company)

Adani Wilmar का 2027 तक देश की सबसे बड़ी फूड कंपनी (Food Company) बनने का लक्ष्य है। AWL आईपीओ के जरिए इस लक्ष्य को पूरा करना चाहती है। AWL के आईपीओ (IPO) का आकार 4,500 करोड़ रुपये का है। अगर AWL की योजना सफल रहती है तो यह लिस्ट (List)होने वाली अडानी ग्रुप (Adani group) की सातवीं कंपनी होगी। ग्रुप की 6 लिस्टेड कंपनियों में से 5 का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक है।

AWL का कारोबार

Adani Wilmar की स्थापना 1999 में हुई थी। यह अडानी ग्रुप (Adani group) और सिंगापुर (Singapore) की कंपनी विल्मर का जॉइंट वेंचर (Joint venture) है। कंपनी खाद्य तेल के अलावा बासमती चावल, आटा, मैदा, सूजी, रवा, दालें और बेसन जैसे सेगमेंट्स में भी अपने पैर पसारे हैं। कोरोना काल में खाद्य तेलों(Oil) की कीमत में भारी बढ़ोतरी हुई है जिससे इस सेगमेंट(segment) की सभी कंपनियों को फायदा हुआ है। अडानी विल्मर (Adani Wilmar) के मुताबिक ब्रांडेड ऑयल कंपनियों (Branded oil company) में उसका डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क देश में सबसे बड़ा है।

अडानी (Adani )की छलांग

इन कंपनियों के शेयरों (Share) में आई उछाल के कारण ग्रुप के चेयरमैन(Chairman) गौतम अडानी (Gautam Adani) दुनिया के अमीरों की सूची में 14वें नंबर पर आ गए हैं। एशिया (Asia) में वह रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के बाद दूसरे नंबर पर हैं। Bloomberg Billionaires Index के मुताबिक अंबानी 83.3 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ एशिया (Asia) में पहले और दुनिया में 12वें नंबर पर हैं। अडानी की नेटवर्थ (Networth) 76.7 अरब डॉलर है। अडानी की नेटवर्थ इस साल 42.9 अरब डॉलर बढी है।

कंपनी लाएगी 4500 करोड़ रुपये का IPO

शेयर बाजार (Share market) नियामक सेबी को दी गई जानकारी में अडानी एंटरप्राइजेज (Adani enterprises) ने कहा कि अडानी विल्मर लिमिटेड (AWL) की शेयर बाजार (Share market) में प्रस्तावित लिस्टिंग (Listing) में नए इक्विटी शेयर (Share equity) के फ्रेश इश्यु (Fresh issue) शामिल होंगे। अडानी विल्मर लिमिटेड (Adani Wilmar Ltd)  4500 करोड़ रुपये के नए इक्विटी शेयर (Equity share) जारी करने जा रहा है.

नए यूनिट (New Unit)  लगाने में होगा फंड (Fund)  का इस्तेमाल

अडानी(Adani)  ने कहा कि आईपीओ(IPO) के माध्यम से जुटाए जाने वाले फंड (Fund) को अडानी विल्मर लिमिटेड (Adani Wilmar Ltd) के कारोबारी विस्तार से जुड़े पूंजीगत खर्च में उपयोग किया जाएगा! अडानी विल्मर लिमिटेड (Adani Wilmar Ltd) की मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी (Manufacturing Facility) की क्षमता बढ़ाने और नई यूनिट (New unit)  लगाने में इस रकम का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके साथ ही कर्ज के भुगतान, रणनीतिक निवेश और सामान्य कार्पोरेट पर्पस (Corporate purpose) के लिए इस फंड (Fund) का इस्तेमाल किया जाएगा।

2027 तक देश की सबसे बड़ी फूड कंपनी बनने का टारगेट

कंपनी मार्केट ( Target company market)  में अपनी पकड़ मजबूत करते हुए IPO के जरिए अपनी वैल्यू (Value) भुनाना चाहती है। अगर कंपनी लिस्ट (Company list) होने में कामयाब होती है तो यह लिस्ट (list ) होने वाली अडानी ग्रुप (अडानी ग्रुप)की सातवीं कंपनी होगी। ग्रुप की 6 लिस्टेड कंपनियों में से 5 का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक है। Adani Wilmar ने साल 2027 तक देश की सबसे बड़ी फूड कंपनी (Food Company) बनने का टारगेट (Target) बनाया है।

गौरतलब है कि Adani Wilmar, अडानी ग्रुप (Adani group) और सिंगापुर (Singapore) की कंपनी (Company) विल्मर (Wilimar)  का ज्वाइंट वेंचर (Joint Venture) है। जिसकी स्थापना 1999 में हुई थी। अडानी विल्मर (Adani Wilmar) के पास फॉर्चून (Fortune) जैसे खाद्य तेल के ब्रांड है. कंपनी खाद्य तेल के अलावा बासमती चावल, आटा, मैदा, सूजी, रवा, दालें और बेसन के मार्केट (Market) में भी है।

शेयर प्राइस लिस्ट( Share price list)

Day Range1,691.051,725.00
52 Week Range435.751,788.90
Volume978,138
Bid / Ask1709.00 / 1709.65

Summary of financial Information (Restated Consolidated)

ParticularsFor the yearperiod ended (₹ in Millions) 
 31-Mar-2131-Mar-2031-Mar-19
Total Assets133,266.40117,859.17116,028.71
Total Revenue371,956.58297,669.86289,196.81
Profit After Tax7,276.494,608.723,755.21
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments