Sunday, July 3, 2022
HomeIPOFusion Microfinance Rs.600 करोड़ रुपये (Cr. Rupya) का आईपीओ (IPO) लाएगी

Fusion Microfinance Rs.600 करोड़ रुपये (Cr. Rupya) का आईपीओ (IPO) लाएगी

कंपनी (company)  ने कहा है वह अपने आईपीओ (IPO)  के जरिये जुटाए (Collect)  गए फंड (fund) का इस्तेमाल (Use) कैपिटल बेस (capital base) को बढ़ाने में करेगी.ऑफर फॉर सेल (Offer for sale) से जुटाया गया फंड हिस्सेदारी (Share) बेचने वाले प्रमोटरों (promoters) को मिलेगा

प्राइवेट इक्विटी (private equity)  फर्म Creation Investment और Warburg Pincus की एक इकाई (unit) समर्थित माइक्रोफाइनेंस कंपनी (microfinance company)  फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस ( Fusion Microfinance) Rs.600 करोड़ रुपये (Cr. Rupya) का आईपीओ (IPO)  लाएगी. इसके लिए उसने सेबी (SEBI)  में शुरुआती दस्तावेज (DRHP) दाखिल (appoint) कर दिए हैं. ग्रामीण (Rular)  और अर्धशहरी इलाकों (Area) में कारोबार (Profession) करने वाली फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस (Microfinance) के इस आईपीओ (IPO)  के जरिये मौजूदा प्रमोटर (Promoters) देवेश सचदेव, क्रिएशन (creations) इनवेस्टमेंट फ्यूजन और Warburg Pincus समर्थित हनी रोज (Roj) इनवेस्टमेंट अपनी हिस्सेदारी (Share) बेचेंगीं. लिस्टिंग (Listing)  के बाद कंपनी (Company) उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक, (Small finance Bank) सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक (Small Finance Bank) और बंधन बैंक समेत दूसरी माइक्रो फाइनेंस कंपनियों (Micro finance company) की कतार में शामिल (involve)  हो जाएगी|

रिटेल (Retail) निवेशकों के लिए 35 फीसदी हिस्सा (Share) आरक्षित

फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस (Fusion microfinance) 600  करोड़ रुपये (Cr. Rupya) का आईपीओ (IPO) लाएगी. इसमें नए शेयर (New share) जारी करने के साथ ही 2,19,66,841 इक्विटी शेयर (Equity share) ऑफर फॉर सेल (Offer for sale) के तहत बेचे जाएंगे.कंपनी (Company)  ने कहा है वह अपने आईपीओ (IPO) के जरिये जुटाए गए फंड (Fund) का इस्तेमाल कैपिटल (Capital)  बेस को बढ़ाने में करेगी| आईपीओ (IPO) से पहले फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस (fusion microfinance) के प्रमोटर ग्रुप (Promoters group) और दूसरे प्रमोटरों (promoters) की कंपनी में 85.5 फीसदी हिस्सेदारी (Share)  है|

ऑफर फॉर सेल (offer for sale) से जुटाया गया फंड हिस्सेदारी (Share)  बेचने वाले प्रमोटरों (promoters) को मिलेगा. फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस (microfinance) ने कहा है कि वह आईपीओ (IPO)  से पहले Rs 120 करोड़ रुपये प्राइवेट (Private) प्लेसमेंट के जरिये जुटाएगी| (Collect)  कंपनी के DRHP के मुताबिक आईपीओ (IPO) का 50 फीसदी क्यूआईबी और 35 फीसदी हिस्सा (share)  रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व  (Reserve) होगा| बाकी 15 फीसदी (Percent) गैर (Non) संस्थागत निवेशकों यानी NII के लिए होगा|

हैदराबाद (Hyderabad) मुख्यालय वाली मेडप्लस (MedPlus)  हेल्थ सर्विसेज आईपीओ (IPO) के माध्यम से 1638.71 करोड़ रुपये (cr. Rupya) जुटाने की योजना (plan)  बना रही है। इसमें से 600 करोड़ (Cr.)  रुपये के नए शेयर जारी (Share) किए जाएंगे, जबकि प्रमोटरों (promoters) और शेयरधारकों (Shareholders)  की तरफ से 1038.71 करोड़ रुपये (Cr. rupya) के शेयर, (Share) ऑफर-फॉर-सेल (OFS) के तहत बिक्री के लिए पेश किए जाएंगे।

अच्छा (Good)  है कंपनी का प्रदर्शन (presentation)

वित्त वर्ष 2018-19 में फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस (Fusion microfinance)  की इनकम Rs.873 करोड़  रुपये (Cr. Rupya)  थी| जबकि इसके पिछले (Last)  वित्त वर्ष में इसने 497 करोड़ रुपये कमाए थे| कंपनी (Company) को 2018-19 में Rs.50 करोड़ का शुद्ध मुनाफा (Profit)  हुआ था वहीं वित्त वर्ष 2019-20 में  इसका मुनाफा (Profit) 69 करोड़  रुपये था| हालांकि कोविड (Covid) की वजह से यह अगले साल (tears) घट क 43.9 करोड़ रुपये (Cr. Rupya ) हो गया|

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments