Friday, December 2, 2022
HomeIPOOLA- Upcoming IPO 2022

OLA- Upcoming IPO 2022

Ola IPO: ओला की 11 हजार करोड़ का आईपीओ (IPO) लाने की योजना, जानिए इश्यू (issue) से जुड़ी सभी डिटेल्स (Details)

भारतीय राइड शेयरिंग (Indian ride sharing)  कंपनी ओला आईपीओ (IPO)  लाने जा रही है. इस आईपीओ (IPO) के जरिए कंपनी (Company)  7324-10985 करोड़ रुपये जुटा (Collect) सकती है। जानकारी के मुताबिक (According to)  इस आईपीओ (IPO) के लिए ओला बाजार (market) नियामक दिसंबर तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर 2021) में ड्राफ्ट (Draft)  रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी) दाखिल (Appoint)  कर सकती है। इस इश्यू (Issue) को मैनेज (Manage)  करने के लिए कंपनी (Company) कुछ बैंकों के साथ मिलकर काम कर रही है जिसमें सिटी ग्रुप (City group) और कोटक महिंद्रा (Kotak Mahindra) बैंक शामिल हैं। यह आईपीओ (IPO) एएनआई टेक्नोलॉजीज (Technologies)  ला रही है जो ओला (Ola) संचालित करती है। सूत्रों के मुतााबिक इस आईपीओ (IPO)  की साइज और टाइमलाइन (timeline)  में अभी बदलाव (Changes) हो सकते हैं. ओला (Ola) के भेजे गए मेल (mail) पर कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

हाल ही में अमेरिकी (America)  कंपनी उबेर की प्रमुख प्रतिद्वंद्वी ओला (OLA)  के को-फाउंडर भावीश अग्रवाल (agrawal)  ने कहा था कि अगले साल (next year) आईपीओ लाने की योजना (plan) है लेकिन अभी इसके लिए कोई टाइमलाइन (Timeline) तय नहीं हुआ है। इस आईपीओ (IPO) से निवेशक सॉफ्टबैंक, टाइगर ग्लोबल (tiger global)  और स्टेडव्यू कैपिटल (Capital) को अपनी आंशिक हिस्सेदारी (Share)  बेचकर अपने शेयरधारकों (Shareholders)  को फंड्स लौटाने में मदद मिलेगी।

10 साल पहले हुई थी ओला (OLa)की शुरुआत (Start)

भावीश अग्रवाल ( Bhabhis agrawal)  और अंकित भाटी ने करीब 10 साल पहले 2011 में ओला (OLA) की शुरुआत (start) की थी। यह कंपनी भारत, ऑस्ट्रेलिया, (Australia) न्यूजीलैंड और ब्रिटेन में सर्विसेज (Service)  ऑफर (Offer) करती है। एक अनुमान के मुताबिक ओला (OLA) ने अब तक 400 करोड़ डॉलर (29.31 हजार करोड़ रुपये) का फंड (fund)  जुटाए हैं। ओला ने जुलाई (July)  2021 में टेमासेक, वारबर्ग पिनकस (burbug pincus) की प्लम वुड इंवेस्टमेंट (investment) और भावीश अग्रवाल (Bhabhis agrawal) द्वारा कंपनी में 3733 करोड़ रुपये के निवेश (Invest) का ऐलान किया था।

पिछले महीने (Next month) एंप्लाई के स्टॉक ऑप्शंस (options) में बढ़ोतरी

जुलाई में अग्रवाल (Agrawal)  ने कहा था कि कंरनी (Company)  ने एक साल से अधिक समय (extra time)  में अपने कारोबार (Work) को तेजी से बढ़ाया है। लॉकडाउन (lockdown) के बाद ओला के कारोबार में तेज (fast) रिकवरी हुई और अब अधिकतर लोग सार्वजनिक (individual)  परिवहन की बजाय व्यक्तिगत सफर को प्रमुखता (importance) दे रहे हैं जिससे ओला कैपिटलाइज (Capitalize) होने के लिए बेहतर स्थिति में है। ओला (OLA) ने जुलाई में एंप्लाई (Applies) स्टॉक ऑप्शंस को बढ़ाकर  3 हजार करोड़ रुपये किए जाने और अपने कर्मियों (employees) को 400 करोड़ रुपये मूल्य के अतिरिक्त स्टॉक (Stock) के आवंटन का भी ऐलान किया था।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments