Sunday, July 3, 2022
HomeIPOParadeep Phosphates IPO: पारादीप फॉस्फेट्स की आईपीओ (IPO) लाने की तैयारी-Upcoming...

Paradeep Phosphates IPO: पारादीप फॉस्फेट्स की आईपीओ (IPO) लाने की तैयारी-Upcoming IPO 2022

Paradeep Phosphates IPO: पारादीप फॉस्फेट्स की आईपीओ (IPO)  लाने की तैयारी, सरकार (Government) बेचेगी अपनी पूरी हिस्सेदारी, 1255 करोड़ के नए शेयर (New Share) भी जारी होंगे।

लगातार आ रहे आईपीओ (IPO) की कड़ी में अब Paradeep Phosphates का आईपीओ (IPO) भी प्राइमरी इश्यू (Primary issue) में उतरने की तैयारी (Ready) में है। कंपनी (Company) ने अपने आईपीओ (IPO) के लिए सेबी में DRHP दाखिल कर दिया है। इस आईपीओ (IPO) के तहत Rs.1,255 करोड़ रुपये के नए शेयर (New Share) जारी किए जाएंगे जबकि कंपनी (Company) के मौजूदा स्टेकहोल्डर (Stakeholders) और प्रमोटर (Promoters) Rs.12 करोड़ से ज्यादा (Extra) इक्विटी शेयरों (Equity share)  की बिक्री (Sell)  करेंगे। ऑफर फॉर सेल (Offer for Sell) के तहत Zuari Maroc Phosphates Pvt Ltd (ZMPPL) Rs.75.5 लाख शेयरों (Share) की बिक्री करेगी जबकि भारत सरकार 11.249 करोड़ शेयरों (Share) की अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचेगी। इस वक्त Paradeep Phosphates में ZMPPL की 80.45 फीसदी और भारत सरकार (Indian government)  की 19.55 फीसदी हिस्सेदारी (Share) है। जुआरी एग्रो Adventz group और Maroc Phosphore OCP, मोरक्को की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सीडियरी (Subsidiary) कंपनी (Company)  है।

आईपीओ (IPO)  के फंड (Fund)  का इस्तेमाल कंपनी (Company) के विस्तार में होगा

कंपनी (Company)  इस आईपीओ (IPO) के जरिये जुटाए गए Rs.642 करोड़ रुपये का इस्तेमाल (Use)  गोवा (Goa)  स्थित जुआरी एग्रो केमिकल (Agro chemicals)  की फाइनेंसिंग (Financing)  के लिए करेगी। आईपीओ (IPO)  से मिले Rs.300 करोड़ रुपये का इस्तेमाल कंपनी (Company) के कर्ज को घटाने में किया जाएगा। 31 जून 2021 तक कंपनी (Company) पर 1,419.19 करोड़ रुपये का कर्ज था। Paradeep Phosphate ने DRHP दाखिल कर दिया है। सरकार (Government) अब इसमें अपनी पूरी हिस्सेदारी (Share)  बेचने के लिए तैयार है। यह सरकार (Government) की उस रणनीतिका हिस्सा (Part)  है, जिसके तहत उसे उन सभी कंपनी (Company) में अपनी हिस्सेदारी (Share) बेचनी है, जहां उसकी स्थित माइनरिटी स्टेकहोल्डर (Minority Stakeholders)  की है। हाल में इसी स्थिति (Situation)  की वजह से उसने टाटा (Tata ) टेलीकम्यूनिकेशन ( Telecommunication) में अपनी हिस्सेदारी (Share)  बेची थी।

कैसा रहा है कंपनी (Company) का प्रदर्शन

वित्त वर्ष 2019-20 में पारादीप फॉस्फेट ( Paradeep Phosphate) ने Rs.194 करोड़ रुपये का मुनाफा (Interest) कमाया था, जबकि वित्त वर्ष 2018-19 में इसका मुनाफा (interest) Rs.159 करोड़ रुपये का था। 2019-20 में कंपनी (Company)  का ऑपरेशन रेवेन्यू (Operation revenue) Rs.4,192 करोड़ रुपये का था। वित्त वर्ष 2018-19 में यह रेवेन्यू (Revenue)  4,358 करोड़ रुपये का था। कंपनी (Company) की कुल आय (income) में गिरावट है।  वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी (Company) की कुल आय 4,397 करोड़ रुपये थी, जबकि 2019-20 में यह घट कर Rs.4227 करोड़ रुपये हो गई।

क्या करती है कंपनी? (Company)

Paradeep Phosphates कई तरीके के फर्टिलाइजर (Fertilizer) बनाती है, जिनमें DAP,NPK, Zypmite, Phosphogypsum और Hydrofluorosilicic Acid (HFSA) प्रमुख हैं। इसके अलावा कंपनी (Company) MOP, SPN और City compost भी बनाती है। कंपनी (Company)  के फर्टिलाइजर (Fertilizer) जय किसान (Jai kishan) -नवरत्ना और नवरत्ना ब्रॉन्ड ( Navratan brand) से बाजार (Market) में उपलब्ध हैं। ओडिशा (Odisha)  के पारादीप में कंपनी (Company) की यूनिट (Unit) है।

क्‍या है पारादीप (Pardeep) फॉस्‍फेट्स का बिजनेस

पारादीप फॉस्‍फेट्स (Paradeep phosphate)  फिलहाल कॉम्‍प्‍लैक्‍स फर्टिलाइजर (Complex fertilizer)  की वेरायटी (Verity) जैसेकि डाई-अमोनियम फॉस्‍फेट (DAP) और NPK फर्टिलाइजर्स की मैन्‍युफैक्‍चरिंग (Manufacturing), ट्रेडिंग, डिस्ट्रिब्‍यूशन (Distribution) और सेल्‍स (Sales)  करती है। इसके फर्टिलाइजर्स (Fertilizers) की बिक्री जय किसान नवनत्‍न (Navratan) और नवनत्‍न जैसे ब्रांड (Brand)  के अंतर्गत होती है। यह भारत (India)  की तीसरी सबसे बड़ी नॉन यूरिया (Non uria) फर्टिलाइजर (Fertilizer) बनाने वाली प्राइवेट (Private company) कंपनी है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments