ज्वार के आटा के फायदे और नुकसान | Jowar Atta Benefits and Side Effects

ज्वार के आटा के फायदे (Jowar Atta Benefits) डाइट में आसानी से शामिल किए जा सकते हैं। ज्वार के आटे के फायदे (Jowar Atta Benefits In Hindi) सेहतमंद दिल से लेकर स्वस्थ त्वचा तक जुड़े हुए हैं। ज्वार के आटे के फायदे (Sorghum Flour Benefits In Hindi) से जुड़ी सारी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

सर्दियों की सबसे अच्छी बात यह होती है कि इस मौसम में सेहतमंद, स्वादिष्ट और अच्छी खाने की चीजें मिलती हैं। और इन्हीं में से एक है ज्वार। भारत में ज्वार का सेवन आमतौर पर सर्दियों में रोटी के रूप में किया जाता है। ज्वार के आटे की रोटियां भारत में बहुत पॉपुलर हैं। और आजकल लोग सेहत का खास ध्यान रखने लगे हैं तो ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) लेना नहीं भूलते हैं। आपको बता दें कि ज्वार के लाभ कई सारे हैं जैसे कि फाइबर से भरपूर, सामान्य ब्लड शुगर लेवल, प्रोटीन से भरपूर, हड्डियों के लिए लाभदायक आदि। इस आर्टिकल से आप ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) के साथ- साथ ज्वार का उपयोग कैसे करें और ज्वार के नुकसान क्या हैं से जुड़ी जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन उससे पहले आइए ज्वार क्या है के बारे में जानते हैं।

ज्वार क्या है? (What Is Jowar In Hindi?)

ज्वार बाजरे के परिवार से है और इन दोनों का सेवन सर्दियों में किया जाता है। ज्वार का उपयोग बहुत समय से किया जा रहा है और आजकल लोग ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) ले रहे हैं क्योंकि यह रिफाइंड आटे के मुकाबले बहुत पौष्टिक है। ज्वार के लाभ सबसे ज्यादा ग्लूटेन फ्री अनाज के तौर पर लिए जाते हैं क्योंकि इसका सेवन वो लोग कर सकते हैं जो अनाज जैसे कि गेंहू नहीं खा सकते हैं। इसके साथ ही ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) प्रोटीन, आयरन, फाइबर आदि से जुड़े हुए हैं।

भारत में ज्वार को कई अलग- अलग नाम से जाना जाता है जैसे कि अंग्रेज़ी में सोरघम, तामिल में चोलं, संस्कृत में जूर्ण, कनड़ में जोला, बंगाली में जुयारा, पंजाबी में जुनरी आदि। इससे यह देखा जा सकता है कि ज्वार के लाभ देश के हर एक कोने में प्रसिद्ध हैं। इसलिए ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) के बारे में जानना जरुरी हो जाता है।

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) इतने पॉपुलर क्यों हैं।

ज्वार के आटा के फायदे (Jowar Atta Benefits In Hindi)

अगर आप अपनी डाइट में ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) शामिल करना चाहते हैं तो उससे पहले ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) से जुड़ी जानकारी प्राप्त करनी बेहद जरुरी है। ज्वार के लाभ शरीर के अधिकतर अंग से जुड़े हुए हैं जिससे कहा जा सकता है कि ज्वार बहुत लाभदायक है। ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) से जुड़ी विस्तार से जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

ज्वार के आटा के फायदे स्वस्थ डाइजेशन के लिए (Jowar Atta Benefits For Healthy Digestion In Hindi)

ज्वार के लाभ खासतौर पर पाचन शक्ति को स्वस्थ रखने के लिए जाने जाते हैं। ज्वार का सेवन सही मात्रा में करने से पाचन शक्ति स्वस्थ तरीके से काम करती है। ज्वार में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है और सेहतमंद पाचन शक्ति के लिए फाइबर का सेवन करना जरुरी है। अगर आपको पाचन शक्ति से जुड़ी अकसर दिक्कत रहती है और ज्वार को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

 

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) सेहतमंद डाइजेशन में मदद करते हैं।
ज्वार के आटा के फायदे फाइबर से भरपूर (Benefits Of Jowar Flour Are Rich In Fiber In Hindi)

जैसा कि आपको इससे पहले बताया है कि गया है फाइबर का सेवन करने से स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। आपको बता दें कि एक सर्विंग ज्वार में लगभग 12 ग्राम फाइबर होता है जो दिनभर की फाइबर की खपत को पूरा करने में कई हद तक मदद कर सकता है। फाइबर का सेवन करने से कई दिक्कतों से राहत मिलने में मदद मिल सकती है जैसे कि कब्ज, मोटापा, दिल से जुड़ी बीमारी आदि।

ज्वार के आटा के फायदे सेहतमंद दिल के लिए (Jowar Atta Benefits For Healthy Heart In Hindi)

जब दिल की सेहत की बात होती है तो सबसे पहले कोलेस्ट्रॉल लेवल का ज़िक्र जरुर होता है। दिल को सेहतमंद बनाए रखने के लिए कोलेस्ट्रॉल लेवल का सामान्य रहना बेहद जरुरी है। यहां पर ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) दिल को सेहतमंद बनाए रखने में लाभदायक साबित हो सकते हैं। ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) खून को जमा नहीं होने देते हैं जिससे शरीर में खून का बहाव अच्छे से होता है और दिल को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होती है। ज्वार के लाभ खराब कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम और अच्छे कोलेस्ट्रॉल का लेवल ज्यादा बनाए रखने में मदद करता है।

 

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) दिल स्वस्थ रखने में लाभदायक हैं।
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org
ज्वार के आटा के फायदे वेट लॉस में लाभदायक (Benefits Of Jowar Flour For Weight Loss In Hindi)

जैसा कि आपको शुरुआत में बताया है कि ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) फाइबर से भरपूर होते हैं जो वेट लॉस में भी लाभदायक हो सकते हैं। वेट लॉस डाइट में हाई फाइबर का सेवन करना चाहिए जिससे लंबे समय के लिए पेट भरा रहे और बार- बार खाना ना खाएं। फाइबर को पचने में ज्यादा समय और मेहनत लगती है जिससे मेटाबोलिज्म बढ़ता है और वजन कम करने में मदद मिलती है। इसलिए अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो ज्वार के अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

ज्वार एक ग्लूटेन फ्री अनाज है (Jowar Atta Is A Gluten Free Grain)

जो लोग अनाज जैसे कि गैंहू नहीं खा सकते हैं उन लोगों के लिए ज्वार के अच्छा ऑप्शन है। आसान शब्दों में कहा जाए तो ज्वार एक ग्लूटेन फ्री अनाज है जिसे अनाज ना खाने वालो के लिए जाना जाता है। ग्लूटेन फ्री अनाज खाने वाले लोग अगर गेंहू आदि खा ले तो कई दिक्कतें हो सकती हैं जैसे कि पेट में दर्द, जकड़न, पाचन शक्ति में दिक्कतें आदि। इसलिए ज्वार एक अच्छा ऑप्शन बन जाता है।

 

ज्वार एक ग्लूटेन फ्री अनाज है।
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org
ज्वार के आटा के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए (Jowar Atta Benefits For Regulating)

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) सामान्य ब्लड शुगर लेवल बनाए रखने के लिए भी जाने जाते हैं। डायबिटीज से गुजर रहे लोग ज्वार को अपनी डाइट में डॉक्टर की सलाह के बाद शामिल कर सकते हैं। ज्वार के लाभ ब्लड शुगर लेवल बढ़ने नहीं देता है जिससे डायबिटीज में इसका सेवन डॉक्टर की सलाह के बाद कर सकते हैं।

ज्वार के आटा के फायदे मजबूत हड्डियों के लिए (Benefits Of Jowar Flour For Strong Bones In Hindi)

शरीर में सही मात्रा में मैग्नीशियम होने से कैल्शियम का लेवल सामान्य बनाए रहने में मदद मिलती है। ऐसा होने से हड्डियों को मजबूत रहने में मदद मिलती है। इसलिए ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी कहा जा सकता है।

 

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) हड्डियों को मजबूत करने में मदद करते हैं।
ज्वार के आटा के फायदे स्वस्थ आंखों के लिए (Jowar Atta Benefits For Healthy Eyes In Hindi)

ज्वार के लाभ आंखों को भी स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। सही मात्रा में ज्वार का सेवन करने आंखों की रोशनी लंबे समय के लिए अच्छी बनी रहती है।

ज्वार के आटा के फायदे मजबूत दांतों के लिए (Benefits of Jowar Flour For Health Teeth In Hindi)

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) दांतों के लिए भी जाने जाते हैं। आमतौर पर गांव में ज्वार के बीजों को पीसकर दांतों पर लगाने से दांत में दर्द, मसूड़ों में दर्द में आराम मिल सकता है।

 

ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) दांतों की दिक्कत दूर करने में सहायक है।
ज्वार के आटा के फायदे मुहांसों के लिए (Jowar Atta Benefits For Acne In Hindi)

ज्वार के लाभ त्वचा के लिए भी उपयोग किए जा सकते हैं। ज्वार के बीज को पीस लें और थोड़ा पानी मिक्स करें और त्वचा पर लगा लें। ऐसा करने से मुहांसे कम होने में मदद मिल सकती है।

 

ज्वार के आटे के अन्य फायदे (Other Benefits Of Jowar Flour In Hindi)
आजकल लोग सेहत के प्रति बहुत सतर्क हो गए हैं जिस कारण से खान- पान में बदलाव आने लगे हैं। अब लोग होल वीट आटा या रिफाइंड आटा को छोड़कर ज्वार के आटे की तरफ रुख कर रहे हैं। आपको बता दें कि ज्वार के आटे के कई फायदे हैं जिन्हें डाइट में आसानी से शामिल किया जा सकता है।

 

ज्वार के आटे की रोटी को डाइट में शामिल करना बेहद आसान होता है। सिर्फ गेंहू की रोटी की जगह ज्वार की रोटी का सेवन शुरु कर सकते हैं।
आसानी से पच जाती है और साथ ही पेट से जुड़ी परेशानियों को दूर रखने में मदद करती है क्योंकि ज्वार फाइबर से भरपूर होता है।
ज्वार में मैग्नीशियम, कॉपर, कैल्शियम, आयरन, प्रोटीन आदि पाए जाते हैं जो इम्यूनिटी स्ट्रोंग बनाए रखने में मदद करते हैं। इम्यूनिटी स्ट्रोंग रहने से फ्री रेडिकल का खतरा कम रहता है जो बीमारी पैदा करने के मुख्या कारण है।
यह ग्लूटेन फ्री होता है जिससे आसानी से खा सकते हैं।
ज्वार का आटा डाइट में शामिल करने से ब्लड शुगर लेवल और कोलेस्ट्रॉल भी सामान्य बना रहता है।
ज्वार की रोटी खाने से वेट लॉस में मदद मिल सकती है।

ज्वार के आटे का उपयोग (Jowar Atta Uses In Hindi)
ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) जानने के बाद जरुरी है कि आप इसके उपयोग के बारे में भी जानें। ज्वार के आटा के फायदे लेने के लिए इसका उपयोग सही तरीके से करना जरुरी है। ज्वार का उपयोग कई आसान तरीके से कर सकते हैं और फायदे ले सकते हैं। ज्वार के नुकसान से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

ज्वार की रोटी – ज्वार की रोटी बनाने के लिए सबसे पहले ज्वार का आटा लें और गर्म पानी से आटा लगा लें। ज्वार की रोटी बनाने के लिए चकला – बेलन की जरुरत नहीं। आप हाथ से ही रोटी बना सकते हैं। अब तवे पर रोटी डालें, सेकें और ज्वार की रोटी तैयार है।

 

ज्वार के आटे की रोटी डाइट में शामिल करें।
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org
जवार का डोसा – ज्वार का आटा लें और उसमें नमक, अजवाइन, कटा हुआ प्याद, हरी मिल्च, धनिया, जीरा और पानी डालें और अच्छे से मिक्स करें। अब गर्म तवे पर तेल डालें और गर्म होने के बाद डोसा को घोल डालें। दोनों तरफ से अच्छे से पकाएं और ज्वार का डोसा तैयार है। इसे नारियल की चटनी या सांभर के साथ खाएं।

ज्वार की इडली – ज्वार की इडली बनाने के लिए ज्वार का आटा, सूजी और दही अच्छे से मिक्स करें। इसके बाद पानी भी डालें और अच्छे से मिक्स करें। दूसरे पैन में इडली के मिश्रण में तड़का तैयार करें। अपनी पसंद की सामग्री से तड़का तैयार करें। मूंगफली काटकर डालने से इडली का स्वाद बढ़ जाता है। तड़का इडली मिश्रण में डालें और ढक दें। अब इडली स्टैंड में तेल लगाकर इडली का घोल डालें और भाप में इडली बनने दें।

 

ज्वार के आटा के नुकसान (Jowar Atta Side Effects In Hindi)
ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) कई सारे हैं लेकिन अधिक मात्रा में ज्वार का सेवन करने से नुकसान भी हो सकते हैं। इसलिए ज्वार का सेवन सही मात्रा में और सही तरीके से ही करें। अधिक मात्रा में ज्वार खाने से क्या नुकसान हो सकते हैं से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

 

अधिक मात्रा में ज्वार खाने से ब्लड शुगर लेवल अचानक से बढ़ या घट सकता है।
कुछ लोगों को ज्वार से एलर्जी भी हो सकती है।
अधिक मात्रा में ज्वार खाने से वजन बढ़ भी सकता है क्योंकि यह फाइबर से भरपूर होता है।
फाइबर का सेवन अधिक मात्रा में करने से पेट से जुड़ी परेशानी हो सकती है।

आखिर में
ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) कई सारे हैं अगर इसका सेवन सही तरह से और सही मात्रा में किया जाए। ज्वार के लाभ फाइबर, प्रोटीन, आयरन से भरपूर होने के साथ- साथ सेहतमंद दिल, दांत, त्वचा और वजन सामान्य बनाए रखने के लिए पॉपुलर हैं। ज्वार को डाइट में शामिल करना एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। ज्वार की रोटी सबसे ज्यादा पॉपुलर है और इसे डाइट में शामिल करना भी बेहद आसान है। ज्वार को डाइट में शामिल करने से पहले इसकी मात्रा का खास ध्यान रखें। अधिक मात्रा में ज्वार का सेवन करने से नुकसान भी हो सकते हैं जैसे कि अचानक से बढ़ता ब्लड शुगर लेवल, एलर्जी आदि। इसलिए ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) पूरी तरह से लेने के लिए इसका सेवन सही मात्रा में ही करें।

 

FAQs

क्या ज्वार सेहत के लिए लाभदायक है? (Is jowar good for health?)
ज्वार के आटा के फायदे (jowar atta benefits) कई सारे हैं अगर इसका सेवन सही मात्रा में किया जाए जैसे कि फाइबर, आयरन और प्रोटीन से भरपूर, सेहतमंद दिल, सामान्य ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल लेवल, वेट लॉस में मदद, दांत, त्वचा के लिए लाभदायक आदि।

क्या ज्वार से वेट लॉस में मदद मिलती है? (Is jowar good for weight loss?)
ज्वार को वजन कम करने के लिए जाना जाता है क्योंकि यह फाइबर से भरपूर होता है। फाइबर को पचने में ज्यादा समय और मेहनत लगती है जिससे मेटाबोलिज्म बढ़ता है और वेट लॉस में मदद मिलती है। इसके साथ ही पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है।

क्या ज्वार और बाजरा एक होते हैं? (Is jowar and bajra same?)
यह दोनों ही बाजरा के परिवार से हैं। भारत में ज्वार को सफेद बाजरा भी कहा जाता है और वहीं बाजरा को काला बाजरा भी कहा जाता है। स्वाद और सूरत के मामले में भी यह दोनों अलग होते हैं।

क्या ज्वार गेंहू से बेहतर है? (Is jowar better than wheat?)
जी हां, ज्वार को गेंहू से बेहतर माना जाता है। गेंहू की रोटी के मुकाबले ज्वार की रोटी में कैलोरी की मात्रा कम होती है।

क्या ज्वार रोजाना खा सकते हैं? (Can jowar be eaten daily?)
सही मात्रा में ज्वार रोजाना खा सकते हैं। यह फाइबर से भरपूर होता है जिस कारण से पेट से जुड़ी दिक्कतें दूर रहती हैं और स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है।

how to make jowar roti
is jowar gluten free
what is jowar
what is jowar called in english
is jowar a millet
how many calories in jowar roti
is jowar good for diabetes
is jowar good for weight loss
what is jowar called in tamil
what is jowar in tamil
does jowar have gluten
how to make jowar flour at home
is jowar roti good for weight loss
what is jowar in english