Saturday, July 2, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीआंवला और शहद के फायदे और नुकसान | Benefits and harms of...

आंवला और शहद के फायदे और नुकसान | Benefits and harms of amla and honey

आंवला और शहद (amla and honey) का उपयोग घरेलू उपचार के रूप में किया जाता रहा है। हर कोई इस बात से वाकिफ है कि ये दोनों ही केमिकल किसी की सेहत के लिए बेहद अच्छे होते हैं। आंवला और शहद दोनों में विभिन्न औषधीय गुण होते हैं, लेकिन जब इनका सेवन किया जाता है, तो लाभ दोगुना हो सकता है, जो कई शारीरिक रोगों के जोखिम को रोकने या कम करने में मदद कर सकता है। खाली पेट आंवले का रस और शहद पीने के कई फायदे हैं। यह blood pressure को नियंत्रण (control) में रखते हुए शरीर को सक्रिय (Active) रखने में मदद कर सकता है।

इसे भी पढ़े

पनीर के फायदे और नुकसान

आंवला और शहद के पोषक तत्व

पोषक तत्व आंवला (मात्रा प्रति 100 ग्राम) शहद (मात्रा प्रति 100 ग्राम)
पानी 87.87 g 17.1 g
उर्जा 44 Kcal 304 Kcal
प्रोटीन 0.88 g 0.3 g
टोटल लिपिड (फैट) 0.58 g 00
कार्बोहाइड्रेट 10.18 g 82.4 g
फाइबर (टोटल डायट्री) 4.3 g 0.2 g
शुगर 0 g 82.12 g
कैल्शियम 25 mg 6 mg
आयरन 0.31 mg 0.42 mg
मैग्नीशियम 10 mg 2 mg
फास्फोरस 27 mg 4 mg
पोटैशियम 198 mg 52 mg
सोडियम 1 mg 4 mg
जिंक 0.12 mg 0.22 mg
कॉपर 0.07 mg 0.036 mg
मैगनीज 0.144 mg 0.08 mg
सेलेनियम 0.6 µg 0.8 µg
विटामिन-सी 27.7 mg 0.5 mg
थियामिन 0.04 mg 0.0
राइबोफ्लेविन 0.03 mg 0.038 mg
नियासिन 0.3 mg 0.121 mg
विटामिन बी-6 0.08 mg 0.024 mg
फोलेट (डीएफई) 6 µg 2 µg
विटामिन-ए (आरएई) 15 µg 00
विटामिन-ए (आईयू) 290 IU 00
विटामिन-ई 0.37 mg 00
फैटी एसिड (सैचुरेटेड) 0.038 g 0.00
फैटी एसिड (मोनोअनसैचुरेटेड) 0.051 g 0.00
फैटी एसिड (पॉलीअनसैचुरेटेड) 0.317 g 0.00

आंवला और शहद के फायदे | benefits of amla and honey

आंवला और शहद (amla and honey) के फायदे :-

1 . पाचन में मदद करता है | helps with digestion

शहद कई तरह की विशेषताएं प्रदान करता है जो पाचन तंत्र के स्वस्थ कामकाज में सहायता कर सकता है। यही कारण है कि आयुर्वेद में भी इसे पाचन संबंधी बीमारियों के लिए एक देवता के रूप में बताया गया है। आंवला में फाइबर (fiber) भी अधिक होता है, जो पाचन तंत्र (Digestive System) को स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसके अलावा, लगातार उपयोग पाचन तंत्र (Digestive System) को मजबूत करने में मदद कर सकता है। यह हाइपरएसिडिटी (Hyperacidity) के साथ-साथ कई अन्य पाचन समस्याओं के उपचार में सहायता कर सकता है।

2. आंवला जूस और शहद के मधुमेह लाभ | Diabetes Benefits of Amla Juice and Honey

एक अध्ययन के अनुसार, आंवला में मधुमेह (Diabetes) विरोधी गुण होते हैं जो उच्च रक्त शर्करा के स्तर के प्रबंधन (Management) में सहायता कर सकते हैं। इसी तरह, मधुमेह (Diabetes) में शहद के कुछ फायदे दिखाए जा सकते हैं। एक अध्ययन के अनुसार, शहद मधुमेह के रोगियों के वजन घटाने के साथ-साथ रक्त लिपिड को कम करने में मदद कर सकता है।

3. सर्दी-खांसी में मददगार | Helpful in cold and cough

आंवला और शहद का सेवन करने से भी सर्दी-खांसी में आराम मिलता है। आंवला में विटामिन सी होता है, जो सर्दी के लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकता है । इसके अलावा एक अध्ययन में पता चला है कि आंवला के चूर्ण को शहद में मिलाकर लगाने से सूखी खांसी में लाभ होता है। वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने एक अध्ययन में शहद को युवाओं में खांसी और जुकाम के लिए फायदेमंद पाया है।

4. Immune System को मजबूत बनाने में सहायक | Helpful in strengthening the immune system

जब Immune System से समझौता किया जाता है, तो शरीर कई तरह की बीमारियों के संपर्क में आता है। ऐसे में आंवला का सेवन रोग Immune System को बढ़ाने में मदद कर सकता है। अध्ययन के अनुसार, आंवला सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाकर रोग Immune System को बढ़ाने में मदद कर सकता है। दूसरी ओर, शहद Immune System को मजबूत करने में सहायता कर सकता है। एक अध्ययन के अनुसार, शहद खाने से शरीर में एंटीबॉडी के संश्लेषण में मदद मिल सकती है।

5. पीलिया के उपचार में सहायक | Helpful in the treatment of jaundice

एक अध्ययन के अनुसार, शहद पीलिया के हानिकारक परिणामों (results) को कम करने में मदद कर सकता है। वहीं, एक अध्ययन में पाया गया कि पीलिया के इलाज के लिए आंवले के टॉनिक (gooseberry tonic) का इस्तेमाल फायदेमंद था। नतीजतन, हम यह निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि आंवला और शहद खाने से पीलिया में मदद मिल सकती है।

6. शहद के साथ आंवला के अस्थमा के फायदे | Asthma Benefits of Amla with Honey

शहद अस्थमा के मरीजों की भी मदद कर सकता है। शहद का सेवन और इसे सांस लेने से अस्थमा में कुछ मदद मिल सकती है। दूसरी ओर, शहद के विरोधी भड़काऊ प्रभाव सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। वहीं, आंवला के एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण अस्थमा की गंभीरता को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज एंड रिसर्च के अनुसार, आंवला के रस के साथ शहद मिलाने से सांस की तकलीफ सहित अस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है।

7. आंवला जूस और शहद के त्वचा लाभ | Skin Benefits of Amla Juice and Honey

शोध के अनुसार आंवला में शामिल एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidants) त्वचा को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करते हैं। वहीं, यह एंटी-एजिंग और सनस्क्रीन उत्पादों में पाया जाता है| एक अन्य अध्ययन के अनुसार आंवला में त्वचा को गोरा करने वाले रसायन भी शामिल हैं, जो त्वचा की रंगत को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। दूसरी ओर, शहद त्वचा को प्राकृतिक रूप से हाइड्रेट (hydrate) कर सकता है। शहद में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो त्वचा को जीवाणु रोगों से बचाने में मदद कर सकते हैं। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं, जो संक्रमण की रोकथाम के साथ-साथ त्वचा की सूजन से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं|

8. आंवला जूस और शहद के बालों के फायदे | Hair Benefits of Amla Juice and Honey

आंवला और शहद के इस्तेमाल से बालों को फायदा हो सकता है। अध्ययन के अनुसार, नियमित रूप से आंवले का उपयोग करने से बालों के विकास में मदद मिल सकती है। एक अध्ययन के अनुसार, आंवला शैम्पू और तेल समय से पहले सफेद होने से रोकने के साथ-साथ खोपड़ी और बालों को मजबूत कर सकते हैं। जब शहद की बात आती है, तो यह रूसी और सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस (एक त्वचा एलर्जी जो खोपड़ी पर पपड़ीदार, लाल त्वचा का कारण बनती है) को रोकने में मदद कर सकती है। इसके अलावा, शहद बालों के झड़ने के उपचार में भी मदद कर सकता है। आंवला के रस और शहद के बालों के लिए कई फायदे हैं।

इसे भी पढ़े

शहद और दूध के फायदे और नुकसान 

आंवला और शहद के नुकसान | harm of amla and honey

आंवला और शहद (amla and honey) के कई फायदे हैं, लेकिन इसके कई नुकसान भी हैं। कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं या अधिक मात्रा में सेवन करने से ये परिणाम (result) हो सकते हैं।

1 . आंवला के नुकसान | harm of amla

  • आंवला में blood pressure कम करने वाले प्रभाव होते हैं। निम्न रक्तचाप वाले लोगों को medical सलाह पर आंवले का सेवन करना चाहिए, क्योंकि यह उनके blood pressure को और भी कम करने में मदद कर सकता है
  • आंवले का उपयोग केवल डॉक्टर की सिफारिश पर किया जाना चाहिए यदि आपके पास निम्न रक्त शर्करा है, क्योंकि इसमें एंटीडायबिटिक की विशेषताएं हैं जो आपके रक्त शर्करा को और भी कम करने में मदद कर सकती हैं।
  • आंवला में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है। दूसरी ओर, आंवले के अत्यधिक सेवन से विटामिन सी की अधिकता हो सकती है। इसके परिणामस्वरूप गुर्दे की पथरी होने की संभावना अधिक हो सकती है।
  • गर्भवती होने पर आंवला खाने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

2. शहद का नुकसान | Harm of Honey

  • शहद में एनाफिलेक्सिस को ट्रिगर (trigger) करने की क्षमता होती है। यह किसी प्रकार की एलर्जी (Allergies) प्रतिक्रिया है। त्वचा का लाल होना, सांस लेने में कठिनाई, पित्ती, सीने में दर्द और जकड़न सभी संभावित दुष्प्रभाव हैं।
  • शहद में बहुत सारा फ्रक्टोज होता है। वहीं, शरीर में इसका पर्याप्त रूप से अवशोषण नहीं होने के कारण डायरिया हो सकता है।
  • बहुत अधिक शहद के सेवन से botulinum poisoning हो सकती है। इसके दृष्टि धुंधली, निगलने में कठिनाई और मांसपेशियों में कमजोरी हो सकती है।
  • लो ब्लड शुगर वाले लोगों को डॉक्टर से सलाह लेकर ही शहद पीना चाहिए, क्योंकि अधिक शहद में फ्रुक्टोज की मौजूदगी से ब्लड शुगर लेवल अस्थिर हो सकता है।

इसे भी पढ़े

टमाटर खाने के फायदे और नुकसान

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments