Tuesday, July 5, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीमन को शांत करने वाले योग | yoga to calm the mind

मन को शांत करने वाले योग | yoga to calm the mind

जब किसी व्यक्ति का मन विचलित होता है, तो वह कार्यों को ठीक से नहीं कर पाता है और उसका दिन अस्त-व्यस्त हो जाता है। इस समय तक उसे मानसिक परेशानी होने लगती है। ऐसी स्थिति में मन को शांत रखने के लिए योग (yoga) का प्रयोग किया जा सकता है। मन को शांत करने के लिए योग को लाभकारी माना गया है| अध्ययनों के अनुसार, योग श्वास मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ाता है और मन को शांत रखने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, नियमित योग (yoga) अभ्यास से मानसिक स्पष्टता और फोकस में सुधार हो सकता है। यह जानने के लिए कि कौन से योग आपके दिमाग को शांत करने में आपकी मदद कर सकते हैं, इस post को अंत तक पढ़ें।

इसे भी पढ़े

मॉर्निंग वॉक के फायदे

वजन कम करने के लिए पपीते का उपयोग

मन को शांत करने के लिए योग | yoga to calm the mind

कई तरह के योगासन हैं जो दिमाग को शांत करने में मदद कर सकते हैं। नीचे, हम उनमें से सबसे बड़े योग (yoga) के बारे में गहराई से जानेंगे:-

1. उत्तानासन | Uttanasana

उत्तानासन एक योग मुद्रा है जिसका उपयोग मन को शांत करने के लिए किया जा सकता है। मस्तिष्क क्षेत्र में blood circulation में सुधार के लिए इस योग (yoga) अभ्यास के दौरान सिर झुका हुआ है। फलस्वरूप मन शांत हो जाता है और तनाव, उदासी, थकान, चिंता, सिर दर्द और नींद न आने की समस्या दूर हो जाती है|

योग करने की विधि:-

  • इस योग मुद्रा को करने के लिए किसी साफ सतह पर चटाई या योगा मैट बिछाएं।
  • अब दोनों पैरों को मिलाकर चटाई पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • फिर सांस छोड़ते हुए दोनों हाथों को आगे की ओर सीधा करें और धीरे-धीरे नीचे झुकें।
  • नीचे झुकते समय इस बात का ध्यान रखें कि घुटने न झुकें।
  • अपनी हथेलियों को जमीन पर रखने की कोशिश करें और नीचे झुकने के बाद अपने घुटनों को अपने माथे से स्पर्श करें।
  • हथेलियां पहले जमीन को नहीं छू पाएंगी। नतीजतन, अपने शरीर को अधिक काम न करें।
  • यदि आपका हाथ जमीन तक नहीं पहुंच सकता है, तो अपने हाथों का उपयोग अपनी टखनों को पकड़ने के लिए करें।
  • अपनी क्षमताओं के आधार पर, आने के बाद कुछ सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें।
  • सांस लेने की गति को भी सामान्य बनाए रखें।
  • इसके बाद गहरी सांस लेते हुए ध्यान से प्रारंभिक मुद्रा में लौट आएं।
  • कुछ सेकंड के आराम के बाद, आप अपने योग अभ्यास को फिर से शुरू कर सकते हैं।
  • आप इस चरण को पांच बार तक दोहरा सकते हैं।
2. जानू शीर्षासन | Janu Shirshasan

मानसिक शांति के लिए जानू शीर्षासन किया जा सकता है। एक अध्ययन के अनुसार, यह योग (yoga) मन को शांत करके कई लाभ प्रदान कर सकता है। दरअसल, मन को शांत करके, यह अवसाद, चिंता, थकावट, सिरदर्द और नींद न आना सहित समस्याओं में मदद कर सकता है।

योग करने की विधि:-

  • जानू शीर्षासन का अभ्यास शुरू करने के लिए फर्श पर एक योगा मैट बिछाएं।
  • अब अपने पैरों को आगे की ओर सीधा करें।
  • इस दौरान कमर बिल्कुल सीधी रहनी चाहिए।
  • फिर, अपनी दाहिनी जांघ के साथ, अपने बाएं घुटने को मोड़ें और अपने तलवों से संपर्क करें।
  • गहरी सांस लेते हुए दोनों हाथों को धीरे-धीरे ऊपर की ओर उठाएं।
  • इसके बाद धीरे-धीरे सांस लेते हुए आगे की ओर झुकें।
  • झुकते समय दाहिने पैर के अंगूठे को अपने हाथों से पकड़ने या छूने की कोशिश करें।
  • इस पोजीशन में प्रवेश करते ही सिर को घुटने पर टिकाएं।
  • फिर कुछ सेकंड के लिए सामान्य रूप से सांस लेते हुए इस स्थिति में रहें।
  • गहरी सांस लें और अपनी प्रारंभिक मुद्रा में वापस आ जाएं।
  • यह जानू शीर्षासन चक्र का आधा है।
  • इस प्रक्रिया को दूसरे पैर की तरफ भी दोहराएं।
  • इस योग का अभ्यास लगातार पांच बार तक किया जा सकता है।

3. भुजंगासन | Bhujangasana

भुजंगासन का नियमित अभ्यास मन को शांत करने में मदद कर सकता है। भुजंगासन, वास्तव में, किसी के मूड को बेहतर बनाने के साथ-साथ उदासी, तनाव और चिंता को कम करने में मदद कर सकता है।

योग करने की विधि:-

  • शुरू करने के लिए, एक साफ सतह पर एक चटाई बिछाएं और अपने पेट के बल लेट जाएं।
  • इसके बाद अपने हाथ और पैर दोनों को सीधा और कड़ा रखें। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि आपके पैरों के बीच की जगह आरामदायक होनी चाहिए, और आपका माथा जमीन पर आराम से टिका होना चाहिए।
  • अब दोनों हाथों को कंधों के समानांतर लाएं। हथेली को जमीन पर रखें और हाथों से दबाव डालते हुए धीरे-धीरे सांस लेते हुए शरीर को ऊपर उठाएं।
  • शरीर को एक विशिष्ट क्रम में ऊपर उठना चाहिए, जैसे पहले सिर, फिर छाती और अंत में नाभि।
  • इसके बाद अपनी निगाह आसमान की ओर उठाएं और जितना हो सके अपने सिर को पीछे की ओर झुकाएं।
  • अब इस स्थिति में जितनी देर हो सके रुकें और सामान्य रूप से सांस लें और छोड़ें।
  • इस दौरान शरीर के ऊपरी हिस्से के पूरे वजन को हाथों से सहारा मिलेगा।
  • फिर धीरे-धीरे अपनी प्रारंभिक स्थिति में लौट आएं।
  • कुछ सेकेंड आराम करने के बाद आप इस योग मुद्रा को चार से पांच बार दोहरा सकते हैं।

4. बालासन | Balasan

नियमित बालासन अभ्यास भी मन को शांत करने में मदद कर सकता है। इस संबंध में जारी एक अध्ययन के अनुसार, बालासन एक शांतिपूर्ण योग (yoga) मुद्रा है जो मन को शांत करने और मन की शांति बढ़ाने में मदद कर सकती है। इतना ही नहीं बालासन चिंता और तनाव में मदद कर सकता है।

योग करने की विधि:-

  • बालासन करने के लिए सबसे पहले फर्श पर एक योगा मैट बिछाकर वज्रासन की स्थिति मानकर शुरुआत करें।
  • गहरी सांस लेते हुए अपनी बाहों को धीरे से ऊपर उठाएं।
  • फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए अपने माथे को जमीन पर रखते हुए आगे की ओर झुकें।
  • हाथ और माथा सीधे जमीन पर होंगे, और छाती इस स्थिति में जांघों पर टिकी रहेगी।
  • इस स्थिति में कुछ देर रुकें, सामान्य रूप से सांस लें और सामान्य रूप से सांस छोड़ें।
  • फिर गहरी सांस लें और अपनी मूल स्थिति में लौट आएं।
  • शुरुआत में आप इस योग को तीन से पांच बार कर सकते हैं।

5. बद्धकोणासन | Baddhakonasana

इस योग (yoga) का रोजाना अभ्यास करने से व्यक्ति मानसिक शांति प्राप्त कर सकता है। दरअसल, योग में इस्तेमाल होने वाले ब्रीदिंग एक्सरसाइज तनाव को कम करने में मदद करते हैं। जब तनाव कम हो जाता है, तो मन शांत हो जाता है। बधाकोनासन को इस वजह से मन को शांत करने वाला योग भी कहा जाता है।

योग करने की विधि:-

  • सबसे पहले फर्श पर एक योगा मैट बिछाएं और दोनों पैरों को सामने की ओर फैलाकर बैठ जाएं।
  • फिर दोनों हाथों से पैर के सामने वाले हिस्से को मजबूती से पकड़ लें।
  • इस बिंदु पर धड़ सीधा होना चाहिए और घुटने जमीन पर होने चाहिए।
  • तितली के पंखों की तरह दोनों घुटनों को धीरे-धीरे ऊपर उठाएं और नीचे करें।
  • इस क्रिया के दौरान साँस लेने और छोड़ने की सामान्य दर बनाए रखें।
  • यह योग एक बार में लगभग 5 से 10 मिनट तक किया जा सकता है।

इसे भी पढ़े

मानसिक स्वास्थ्य क्या हैं?

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments