Friday, July 1, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीकिडनी खराब होने के शुरुआती लक्षण | Kidney Failure Symptoms

किडनी खराब होने के शुरुआती लक्षण | Kidney Failure Symptoms

गुर्दे (किडनी) खराब होने के लक्षण | Kidney Kharab Hone ke Lakshan

किडनी (Kidney) हमारे शरीर में खून (Blood) साफ़ करने, हड्डियों (Bones) को मजबूत करने, अपशिष्ट उत्पादों (Waste products) के बीच संतुलन (Balance) बनाने और लाल रक्त कोशिकाओं (Red Blood Cells) के निर्माण जैसे कई जरूरी काम करती है। लेकिन बहुत से कारणों के चलते हमारे शरीर (Body) का सबसे यह सबसे जरूरी अंग (Part) खराब हो जाता है। मुख्य तौर पर किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने पीछे मधुमेह (Diabetes), लगातार रक्तचाप में वृद्धि रहना (Increased Blood Pressure), अधिक मात्रा में दर्द निवारक दवाइयों (Painkiller Medicines) का सेवन करना, धूम्रपान (Smoking), शराब पीना (Drinking Alcohol), संतुलित आहार (Balanced Diet) न लेना, कम पानी पीना (Less Water), दिल की बीमारी (Heart Disease), अधिक चिंता (More Concern) करना जैसे कुछ आम से कारण होते हैं।

इसे भी पढ़ें:- प्राकृतिक सौंदर्य पाने के घरेलू उपाय

किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने की वजह से व्यक्ति को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जिन्हें किडनी खराब होने के लक्षणों (Kidney Failure Symptoms) के तौर पर देखा जाता है। निम्न वर्णित किडनी खराब होने के शुरुआती लक्षण (Kidney Failure Symptoms in Hindi) शुरुआत से ही दिखाई देने लगते हैं, जिनकी पहचान कर जल्द इस गंभीर बीमारी (Serious Illness) से छुटकारा पाया जा सकता है !

इसे भी पढ़ें:- अंकुरित चने खाने के फायदे

पेशाब की मात्रा में परिवर्तन | Changes in Urine Volume in Hindi

अगर आपको रोजाना (Daily) के मुकाबले कम या अधिक पेशाब (Urine) आता है तो इस समस्या को हल्के में ना लें। किडनी की समस्या (Kidney Problem) होने पर व्यक्ति को अक्सर कम मात्रा में पेशाब (Urine) आता है, वहीं कुछ लोगो को रात के समय पीले रंग का पेशाब (Yellow Colored Urine) आता है। कुछ लोगो को पेशाब (Urine) आने का दाब (Pressure) तो महसूस होता है लेकिन आता नहीं है। यह सभी किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने का साफ संकेत (Signal) है।

पेशाब के दौरान तेज दर्द | Severe Pain During Urination in Hindi

अगर आपको पेशाब (Urine) करते समय मूत्र नलिका में जलन (Urinary Tract Irritation) के साथ तेज दर्द (Severe Pain) हो तो यह मूत्र संक्रमण (Urine Infection) और पेशाब (Urine) में सामान्य से ज्यादा अपशिष्ट उत्पादों (Waste Products) की मौजूदगी के कारण होता है। अगर आप ऐसी समस्या (Problem) से जूझ रहें हैं तो सावधान रहे, क्योंकि या तो आपको मूत्र संक्रमण (Urine Infection) है या फिर आपकी किडनी जल्द ही खराब (Kidney Failure Symptoms) होने वाली है।

सांस लेने में तकलीफ | Shortness of Breath

किडनी (Kidney) खराब होने पर शरीर (Body) मे पानी की मात्रा (Amount of Water) बढ़ने लगती है। यह पानी (Water) बाकि अंगों के मुकाबले फेफड़ों (lungs) में अधिक जमा हो जाता है। फेफड़ों (lungs) में पानी की अधिक मात्रा (Amount of Water) होने के कारण सांस लेने में तकलीफ (Shortness of breath) होने लगती है। अगर आपको अचानक छाती में भारीपन (Chest heaviness) और स्वांस लेने में दिक्कत (Shortness of breath) होने लगे तो यह किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने का साफ संकेत है।

ठंड के साथ तेज बुखार | High Fever with Cold in Hindi

अगर आपको कंपकंपी ठंड (Shiver Cold) के साथ तेज बुखार (High Fever) लम्बे समय तक रहे या आता–जाता रहे तो यह किडनी (Kidney) के ठीक से काम ना करने की ओर साफ संकेत (Signal) है।

पेशाब में गंध आना | Smell Urine

अगर आपको अचानक से लम्बे समय तक तेज़ बदबूदार पेशाब (Smelly Urine) आना शुरू हो जाता है, तो इसका मतलब यह की किडनी (Kidney) अपना काम ठीक से नहीं पा रही है। यानि वह खराब (Kidney Failure Symptoms) होने वाली है। तुरंत अपने खानपान में बदलाव (Catering Change) करे।

बार- बार उल्टियां आना | Frequent Vomiting in Hindi

किसी व्यक्ति को अगर तेज पेट दर्द (Severe Stomach Ache) के साथ बार बार उल्टियां (Vomit) आए तो, यह लक्षण किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने की तरफ संकेत देता है। ऐसा होने पर तुरंत चिकित्सक (Doctor) से मिले। ध्यान दें यह स्थति कई कारणों से उत्पन्न हो सकती है जैसे अपच (Indigestion), फ़ूड में विषाक्त तत्व (Toxic Ingredients in Food) उत्पन्न होने के कारण आदि।

शरीर के कुछ हिस्सों में सूजन | Swelling in Parts of the Body in Hindi

किडनी (Kidney) खराब होने पर शरीर (Body) के कुछ हिस्सों जैसे – कमर (Waist), आँखों के आसपास (Around the Eyes) और विशेषकर पैरों में सूजन (Swelling of Feet) आ जाती है। यह शरीर (Body) में यूरिक एसिड (Uric acid) की मात्रा बढ़ने के कारण से होता है।

पेशाब आने में समस्या होना | Having Trouble Urinating in Hindi

किडनी में समस्या (Kidney Problem) होने पर रोगी को बार-बार पेशाब (Urine) आ सकता है या उसे काफी समय तक पेशाब (Urine) नहीं आता, ऐसा शरीर (Body) में पानी की मात्रा (Amount of water) बढ़ने या घटने के कारण होता है।

पेशाब का रंग बदलना | Changing the Color of Urine in Hindi

आमतौर पर कई बार पेशाब का रंग बदल (Change Urine Color) जाता है, लेकिन ऐसा काफी कम समय के लिए ही होता है। लेकिन अगर ऐसा लम्बे समय पट चले तो यह किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने कि ओर इशारा करता है, ऐसे में पेशाब का रंग (Urine Color) गाढ़ा केसरी (Thick Saffron) हो जाता है।

बार-बार पेशाब आने का एहसास होना | Feeling of Frequent Urination

जब आपको बार-बार पेशाब होने का एहसास (Feeling of Urinating) होने लगे मगर करने पर नहीं होना कि़डनी में खराबी (Kidney Failure Symptoms) की तरफ असर करता है।

पेट में तेज दर्द का होना | Severe Abdominal Pain in Hindi

अगर आपके पेट (Stomach) में अचानक दांयी या बायीं तरफ असहनीय दर्द (Unbearable Pain) होता है तो तुरंत चिकित्सक (Doctor) से मिले। यह किडनी खराब (Kidney Failure Symptoms) होने का बड़ा संकेत होता है।

पेशाब में प्रोटीन का आना | Protein in Urine in Hindi

अगर पेशाब में प्रोटीन (Protein in urine) आने लगे तो यह किडनी (Kidney) खराब होने की तरफ संकेत देता है। ऐसे में पेशाब का रंग बदल (Urine Color Change) सकता है, जैसे पीला (Yellow) और गहरा नारंगी (Dark Orange)। इसके अलावा गाढ़ा या झागदार पेशाब (Thick or foamy urine) भी आता है, यह प्रोटीनुरिया (Proteinuria) कि ओर संकेत करता है।

त्वचा में खुजली और रैशेज होना | Skin Itching and Rashes

वैसे तो यह लक्षण (Symptoms) कई तरह से बीमारियों के लक्षण (Symptoms of Diseases) होते हैं लेकिन किडनी के खराब (Kidney Failure Symptoms) होने पर शरीर (Body) में विषाक्त पदार्थों (Toxins) के जम जाने के कारण शरीर के त्वचा (Body Skin) के ऊपर रैशेज और खुजली (Rashes and Itching) निकलने लगती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments