डिजिटल मर्केटिंग क्या है | What is Digital Marketing

डिजिटल मर्केटिंग (Digital Marketing) एक बेहतर पेशा (Better Occupation) कहा जाता है क्योकि इसमें पैसे के साथ साथ आगे बढ़ने के ढेर सारे आप्शन (Option) होते है। जहाँ कुछ लोग इसमें सफल होते है तो बहुत सारे असफल भी होते है। मार्केटिंग के फील्ड (Fields of Marketing) में आगे बढने के लिए आपके अंदर कुछ ख़ास कला होनी चहिये और आपको कुछ ख़ास बातें पता होनी चहिये।

अगर आप इस फील्ड में सफल होना चाहते है तो आपको ये ध्यान रखना है | If you want to succeed in This field, then you have to keep in Mind

• अपने उपज पर भरोसा | Trust your Produce

ये सबसे बड़ी बात है जो की लोग समझ नहीं पाते है। कंपनी (Company) उन्हें पैसा देती है तो वो कुछ भी बेचने के लिए तैयार हो जाते है। किसी भी मार्केटिंग (Digital Marketing) कंपनी में काम करते समय आपको उस कंपनी (Company) के उपज (Product) पर भरोसा होना चहिये जो आप दूसरो को बेचने जा रहे हैं।

अगर आपको उस उपज (Product) में भरोसा है तो आपके अंदर एक आत्मविश्वास (Self-confidence) होगा जो की आपकी सेल्स (Sales) को बढ़ा देगा। अगर भरोसा नहीं है तो प्रोडक्ट (Product) की जांच पड़ताल करें और उसके बारे में पूरी जानकारी लेकर मैदान में उतरें।

इसे भी पढ़े:- ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है और कैसे करें

• कस्टमर रिलेशन सबसे ऊपर | Customer Relation Tops

कई सारे लोग होते है जो की प्रोडक्ट (Product) बेच देने के बाद कस्टमर (Customer) के पास ना तो कभी जातें है और ना ही कभी उन्हें फोन करने की जरूरत समझतें हैं। यह पूरी तरह से गलत है। आप कस्टमर (Customer) को चीज देने के बाद उनसे मिलते रहें और काल भी करते रहें। प्रोडक्ट (Product) में कोई कमी तो नहीं, सही से काम आ रहा है या नहीं आदि सवाल उनसे करते रहें।

कस्टमर रिलेशन मार्केंटिंग (Customer Relation Marketing) के बिजनस में सबसे ऊपर होता है जो की आपको आगे ले जाता है। जिसके जितने अधिक लॉयल कस्टमर (Loyal Customer) वो उतना आगे जाता है। इससे आपके रिपीट कटमर (Repeat Catamaran) बनते है जो की बहुत आवश्यक होते है।

• कंपनी की वैल्यू ना गिराएं | Do not drop the value of the Company

कई सारे लोग होते है जो की अपने रिलेशन में उपज (Product) बेचने लगते है और कंपनी के बारे में कुछ भी कहते रहते है। वो कहते है की आप मेरे कहने पर ले लीजिए जबकि ऐसा नहीं है। एक अच्छा मार्केटिंग (Marketing) वाला बन्दा हमेशा कस्टमर (Catamaran) को कंपनी की शर्तों में प्रोडक्ट (Product)बेचता है। ऐसे में आपकी कंपनी की इमेज भी कस्टमर के मन (Mind) में बढ़िया बनी रहती है और आपका भरोसा कंपनी (Company) के प्रति बढ़ता है।

• ड्रेसिंग सेंस में ध्यान | Attention in Dressing Sense

मार्केटिंग (Digital Marketing) में सफल होने के लिए आपको अपने ड्रेसिंगग सेन्स में ध्यान देना बहुत आवश्यक है। आपके जूते फॉर्मल हो, आपकी शर्ट (Shirt) साफ़ और प्रेस की हुई हो और आप एकदम जेंटलमैन (Gentleman) दिखने चहिये। इससे कस्टमर के मन (Mind) में आपके प्रति विश्वास पैदा होता है और आपके अंदर आत्मविश्वास (Self-confidence)।

इसे भी पढ़े:- इनकम टैक्स क्या है

• टीम से काम | Team Wwork

आगे वही जाता है जो की अपनी टीम (Team) से अधिक से अधिक काम करवा सकें। आप सुबह के समय ही अपनी टीम (Team) का काम निर्धारित कर दें और उसके बाद उन्हें फील्ड (Field) में भेज दें। खुद कहें की कही समस्या तो वो आपको बुलाएँ।

ऐसे में आपकी टीम बेहतर काम (Better work) करेगी। समय समय पर आप फोन करके उनके कामो की जानकारी लेते रहें और उन्हें शाम का टारगेट (Target) याद दिलवाते रहें। अगर वो टारगेट अचीव (Target achievement) करते है तो आप आगे बढते है और ऐसे में आप उन्हें भी प्रोत्साहित (Encouraged) करें और इनाम दें।

• बेचने की ललक | Urge to Sell

मार्केटिंग (Digital Marketing) में आगे वही जाता है जिसके अंदर बेचने की ललक होती है। जो कुछ भी बेच देने का माद्दा रखता है वो बहुत आगे जाता है। इसीलिए आपके अंदर प्रोडक्ट (Product) बेचने की ललक होनी चहिये। आपके अंदर हमेशा ये हिम्मत होनी चहिये की अगर आपकी टीम काम नहीं कर रही है तो आप आज भी फील्ड में जाकर प्रोडक्ट (Product) बेचने की क्षमता रखते है।

मार्केटिंग (Digital Marketing) में जाना आसान काम है लेकिन वहां जमे रहना और सफल हो जाना बहुत मुश्किल है। इसके लिए आवश्यक है की आप आत्मविश्वास (Self-confidence) के साथ चलने और अपनी टीम में भी यही माहौल बनाये रखें।

Leave a Comment