Friday, December 2, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीसूरज के रोशनी के फायदे और नुकसान | Advantages and disadvantages of...

सूरज के रोशनी के फायदे और नुकसान | Advantages and disadvantages of sunlight

सर्दियों में धूप की गरमाहट का आनंद कौन नहीं लेना चाहेगा? लोगों को अक्सर समुद्र के पास धूप सेंकते देखा जाता है। यह धूप न केवल आपको गर्माहट का एहसास कराती है, बल्कि इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं। नतीजतन, कुछ समय के लिए सूरज (sunlight) सेंकना न केवल सर्दियों में बल्कि गर्मियों में भी फायदेमंद माना जाता है। इस पोस्ट में, हम विस्तार से वर्णन करते हैं कि यह शरीर को कैसे लाभ पहुंचाता है। वैज्ञानिक जांच के आधार पर धूप के फायदे और नुकसान की जानकारी दी गई है।

इसे भी पढ़े

आंवला और शहद के फायदे और नुकसान

सूर्य का प्रकाश में क्या है? What is in sunlight?

सूरज (sunlight) का प्रकाश वह तेज प्रकाश है जो सूर्य से निकलता है। इसमें कई तरह की किरणें होती हैं। यह पृथ्वी के तापमान को बढ़ाने के अलावा कई तरह से मानव स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। सूरज की किरणें त्वचा और सेहत के लिए हानिकारक होती हैं। लंबे समय तक सूरज की किरणों में बिताया गया समय, साथ ही अनुचित समय, त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। नतीजतन, हम नीचे धूप के फायदे और नुकसान दोनों पर चर्चा करेंगे।

सूरज के रोशनी के फायदे | Advantages of sunlight

इस post में, हम जानेंगे कि धूप कितनी अच्छी है और यह क्या स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है। इन फायदों को पढ़ने से पहले इस बात का ध्यान रखें कि जहां धूप किसी भी बीमारी का इलाज नहीं है, वहीं शरीर को स्वस्थ रहने में मदद कर सकती है। आइए अब हम सूरज (sunlight) के प्रकाश के फायदों पर एक नजर डालते हैं।

1 . विटामिन डी को बूस्ट करें | Boost Vitamin D

विटामिन डी, अन्य खनिजों की तरह, अच्छे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। एक शोध के मुताबिक, सूरज की रोशनी विटामिन डी (Vitamin D) के उत्पादन का प्राथमिक स्रोत है। ऐसा माना जाता है कि सूरज (sunlight) के प्रकाश के संपर्क में आने से शरीर की दैनिक विटामिन डी (Vitamin D) की 90 प्रतिशत जरूरतें पूरी हो जाती हैं। कैल्शियम (calcium) और फास्फोरस (Phosphorus) का अवशोषण सूर्य की किरणों द्वारा सहायता प्रदान करता है। यह रक्त कोशिकाओं के निर्माण, Immune System की Excitement और रक्त परिसंचरण (blood circulation) में सुधार में भी सहायता कर सकता है।

2. हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए | for bone health

सूरज (sunlight) के प्रकाश के संपर्क में आने से भी हड्डियों की मजबूती में मदद मिलती है। एक शोध अध्ययन के अनुसार, विटामिन डी की कमी से बच्चों में रिकेट्स (Rickets) और वयस्कों में गठिया की समस्या, साथ ही ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) और ऑस्टियोमलेशिया (osteomalacia) हो सकता है। सूरज की रोशनी विटामिन-डी का अच्छा स्रोत है, जैसा कि हम पहले ही चर्चा कर चुके हैं। नतीजतन, धूप इन मुद्दों को संबोधित करके हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकती है। इसके अलावा, सूर्य से विटामिन डी शरीर को कैल्शियम के अवशोषण में सहायता करता है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। इसके परिणामस्वरूप अस्थि खनिजकरण में सुधार होता है। ये हड्डियों की कमजोरी को दूर करने और हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद कर सकते हैं।

3. डिप्रेशन की समस्या का समाधान करना | Solving the problem of depression

डिप्रेशन, जिसे अक्सर अवसादग्रस्तता विकार के रूप में जाना जाता है, एक मानसिक बीमारी है। विटामिन डी आपको इस मानसिक स्थिति से बाहर निकलने में भी मदद कर सकता है। एक अध्ययन के निष्कर्ष प्रकाशित किए गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, मरीजों को दो हफ्ते तक हर सुबह एक घंटे सूरज (sunlight) में बैठने को मजबूर होना पड़ा। उसके बाद, दो सप्ताह में सभी रोगियों के अवसाद के स्तर में कमी देखी गई। अध्ययन के अनुसार सुबह के समय कुछ देर धूप में बैठकर व्यायाम करने से डिप्रेशन और अन्य मानसिक रोगों से बचा जा सकता है|

4. कैंसर-रोकथाम के लाभ | Cancer-Prevention Benefits

सूरज (sunlight) की रोशनी से विटामिन डी की कमी से कैंसर समेत कई खतरनाक बीमारियां जुड़ी हैं। अध्ययनों के अनुसार, विटामिन डी की कमी से कोलोरेक्टल कैंसर (जिसे कोलन कैंसर, कोलन कैंसर या रेक्टल कैंसर भी कहा जाता है) का खतरा 253 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। कोलोरेक्टल, स्तन और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को 30 से 50 प्रतिशत तक कम करने के लिए अध्ययनों में विटामिन-एंटी-कैंसर डी की क्षमताओं को दिखाया गया है। हां, सीधी धूप में लंबे समय तक रहने से बचना चाहिए। ध्यान रखें कि जहां विटामिन डी कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है, वहीं इसका उपयोग कैंसर के इलाज के लिए नहीं किया जा सकता है।

5. रूमेटाइड गठिया | Rheumatoid Arthritis

सूरज (sunlight) के प्रकाश के संपर्क में आने से गठिया पीड़ितों को फायदा हो सकता है। जैसा कि पहले कहा गया है, सूर्य की किरणों में विटामिन डी की एक महत्वपूर्ण मात्रा शामिल होती है। सूर्य से प्राप्त यह विटामिन गठिया को रोकने में मदद कर सकता है। एक अध्ययन के अनुसार गठिया के रोगियों में विटामिन डी का स्तर काफी कम होता है। इसकी कमी से इस बीमारी की संभावना के साथ-साथ बीमारी की गंभीरता भी बढ़ सकती है। अध्ययनों के अनुसार, सूर्य के प्रकाश के संपर्क में आने वाले विटामिन-डी युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन गठिया से जुड़ी परेशानी को कम करने में मदद कर सकता है।

6. त्वचा रोगों के लिए सूर्य के प्रकाश के स्वास्थ्य लाभ | Health Benefits of Sunlight for Skin Diseases

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, सूरज (sunlight) से संबंधित कई त्वचा संबंधी समस्याओं को घर पर ही प्रबंधित (managed) किया जा सकता है। समूह से जुड़े डॉक्टरों के अनुसार, सोरायसिस, एक्जिमा, पीलिया और मुंहासों का इलाज सूरज से यूवी किरणों की मदद से किया जा सकता है। सूर्य के संपर्क में आने से सनटैन और झुर्रियां जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

इसे भी पढ़े

बीयर के फायदे और नुकसान

सूरज के रोशनी के नुकसान | damage of sunlight

सूरज (sunlight) की रोशनी हमेशा उपयोगी नहीं होती है, इसमें कमियां भी हो सकती हैं। अब हम सूर्य के प्रकाश की कमी की चर्चा कर रहे हैं:-

  • लंबे समय तक सूरज के संपर्क में रहने से त्वचा में लालिमा आ सकती है।
  • लंबे समय तक सूर्य के संपर्क में रहने पर, सेलुलर प्रतिरक्षा को नुकसान हो सकता है।
  • लंबे समय तक धूप में रहने से photoaging और त्वचा का कैंसर हो सकता है।
  • लंबे समय तक सूरज के संपर्क में रहने से यूवी विकिरण के परिणामस्वरूप सनबर्न भी एक चिंता का विषय हो सकता है।
  • सनबर्न और त्वचा कैंसर दोनों ही सूर्य के अत्यधिक संपर्क में आने के कारण हो सकते हैं।
  • सनबर्न एरिथेमा का कारण बन सकता है, एक त्वचा रोग जो लंबे समय तक सूरज के संपर्क में रहने के कारण होता है।
  • ऐसा माना जाता है कि झुर्रियां सूरज के संपर्क में आने से होती हैं।

इसे भी पढ़े

चने के फायदे और नुकसान

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments