Wednesday, December 7, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीकिशमिश के फायदे | benefits of raisin

किशमिश के फायदे | benefits of raisin

किशमिश (raisin) का स्वाद कैसा होता है ये तो सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि किशमिश आपके लिए क्या कर सकती है? आपको यह जानकर आश्चर्य हो सकता है कि किशमिश के गुण केवल उसकी मिठास तक ही सीमित नहीं हैं, और सूखी किशमिश के लाभों का उपयोग विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य बीमारियों को दूर करने के लिए किया जा सकता है। इसमें पाचन में सुधार करने के साथ-साथ शरीर में ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने की क्षमता होती है।

इस post में किशमिश (raisin) खाने के फायदे और नुकसान के बारे में और जानें। यह भी ध्यान देने योग्य है कि किशमिश के गुण लेख में चर्चा की गई बीमारियों के प्रभाव को कुछ हद तक कम करने में मदद कर सकते हैं। किशमिश को किसी भी तरह से बीमारी का इलाज नहीं मानना ​​चाहिए।

किशमिश के पोषक तत्व

पोषक तत्व मात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी 15.43 ग्राम
ऊर्जा 299 kcal
प्रोटीन 3.07 ग्राम
फैट 0.46 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 79.18 ग्राम
फाइबर 3.7 ग्राम
शुगर 59.19 ग्राम
मिनरल
कैल्शियम 50 मिलीग्राम
आयरन 1.88 मिलीग्राम
मैग्नीशियम 32 मिलीग्राम
फास्फोरस 101 मिलीग्राम
पोटेशियम 749 मिलीग्राम
सोडियम 11 मिलीग्राम
जिंक 0.22 मिलीग्राम
कॉपर 0.318 मिलीग्राम
सिलेनियम 0.6 माइक्रोग्राम
विटामिन
विटामिन-सी 2.3 मिलीग्राम
थियामिन 0.106 मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन 0.125 मिलीग्राम
नियासिन 0.766 मिलीग्राम
विटामिन-बी 6 0.174 मिलीग्राम
फोलेट 5 माइक्रोग्राम
कोलिन 11.1 मिलीग्राम
विटामिन-ई 0.12 मिलीग्राम
विटामिन-के 3.5 मिक्रोग्राम
लिपिड
फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड 0.058 ग्राम
फैटी एसिड टोटल मोनोअनसैचुरेटेड 0.051 ग्राम
फैटी एसिड टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड 0.037 ग्राम

किशमिश के फायदे | benefits of raisin

किशमिश (raisin) को सूखे मेवों के रूप में क्लासिफाइड किया जाता है क्योंकि वे अंगूर को सुखाकर बनाए जाते हैं। इस प्रक्रिया में अंगूर की नमी निकालने के लिए अंगूरों को लगभग तीन सप्ताह तक धूप में सुखाया जाता है। इसे हिंदी में किशमिश, अंग्रेजी में किशमिश, तेलुगू में एंडुद्राक्ष, तमिल में उलर धराक्षई, मलयालम में उनक्कू मुन्थिरिंगा, कन्नड़ में वोनाद्राक्षे, गुजराती में लाल द्रक्ष और भारत में मराठी में मनुका कहा जाता है।

1. एनीमिया में किशमिश के स्वास्थ्य लाभ | Health Benefits of Raisins in Anemia

शरीर में आयरन की कमी एनीमिया के कारणों में से एक है। इस मामले में, शरीर पर्याप्त लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन नहीं करता है, जो शरीर को ऑक्सीजन पहुंचाते हैं। किसमिस एनीमिया के लिए आहार में किशमिश के लिए एक शब्द है क्योंकि वे आयरन का एक उच्च स्रोत हैं।

2. हृदय रोग को रोकना | Preventing Heart Disease

किशमिश (raisin) खाने से अन्य स्वास्थ्य लाभ होते हैं, जैसे हृदय रोग को रोकना। एक अध्ययन के अनुसार, किशमिश खराब कोलेस्ट्रॉल, जैसे एलडीएल, और ट्राइग्लिसराइड को कम कर सकता है, जिससे कोलेस्ट्रॉल के कारण होने वाले हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है। खतरे से बचना संभव है। हालांकि, यह अभी तक अज्ञात है कि इस प्रक्रिया में किशमिश के कौन से गुण शामिल हैं।

3. कैंसर को रोकने में मदद | Help Prevent Cancer

किशमिश (raisin) में ऐसे गुण होते हैं जो आपको कैंसर जैसी भयानक बीमारियों से बचाने में मदद कर सकते हैं। शोध के अनुसार, किशमिश के मेथनॉल अर्क में एंटी-रेडिकल (anti-radical) और कैंसर-निवारक क्षमताएं होती हैं, जो कुछ हद तक कोलन कैंसर को रोकने में मदद कर सकती हैं। साथ ही, यह देखने के लिए और शोध की आवश्यकता है कि क्या किशमिश अन्य प्रकार के कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है।

4. किशमिश की अम्लता-फायदेमंद गुण | Acidity – Beneficial Properties of Raisins

एसिडिटी एक आम समस्या है जिसके कारण सीने से लेकर पेट तक जलन होती है। इससे छुटकारा पाने के लिए आप किसमिस का इस्तेमाल कर सकते हैं। अम्लता के स्तर को कम करने में मदद करने के लिए किशमिश का उपयोग व्यंजनों में किया जा सकता है।

5. ऊर्जा स्रोत | Energy Source

किशमिश कार्ब्स का एक अच्छा स्रोत हैं क्योंकि वे प्राकृतिक रूप से पाए जाते हैं। यह गतिविधि के दौरान रक्त शर्करा के स्तर को स्थिर रख सकता है, जिससे ऊर्जा पूरे शरीर में स्वतंत्र रूप से प्रसारित हो सकती है। एक अध्ययन द्वारा समर्थित है। ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने के लिए किशमिश को आहार में शामिल किया जा सकता है।

6. मुंह और दांतों की देखभाल | Mouth and Teeth Care

किशमिश (raisin) आपके मुंह और दांतों को अच्छे आकार में रखने में मदद कर सकती है। दरअसल, अमेरिकी कृषि विभाग की खाद्य और पोषण सेवा के एक शोध से पता चलता है कि किशमिश खाने से कैविटी को रोकने में मदद मिल सकती है। शोधकर्ताओं के अनुसार, किशमिश में फाइटोकेमिकल्स, एंटीऑक्सिडेंट और ओलीनोलिक एसिड शामिल हैं, जो दांतों की सड़न पैदा करने वाले कीटाणुओं के निर्माण को रोकने में मदद कर सकते हैं।

7. किशमिश का वजन-नियंत्रण | Raisins Weight Control

थोड़ा सा किसमिस खाने के फायदे वजन Management में भी दिखाए जा सकते हैं। वास्तव में, किसमिस में आहार फाइबर और प्रीबायोटिक्स की खोज की गई है एक अध्ययन के अनुसार ये दोनों पोषक तत्व पेट में फायदेमंद और स्वस्थ बैक्टीरिया के विकास में सहायता करते हैं, जो वजन प्रबंधन में सहायता कर सकते हैं।

8. यौन स्वास्थ्य में सुधार | Improving Sexual Health

यौन स्वास्थ्य को बढ़ावा देने सहित किशमिश के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। दरअसल, किशमिश में बोरॉन होता है, जो एक मिनरल है। एक अध्ययन के अनुसार, बोरॉन महिलाओं और पुरुषों दोनों को यौन स्वास्थ्य से जुड़े हार्मोन में सुधार करने में मदद कर सकता है। यह इसकी सहायता से यौन स्वास्थ्य के सुधार में सहायता कर सकता है।

9. किशमिश के मधुमेह के लाभ | Diabetes Benefits of Raisins

बहुत से लोग मानते हैं कि मधुमेह वाले व्यक्ति किशमिश नहीं खा सकते हैं, लेकिन यह सच नहीं है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि कम मात्रा में किशमिश खाने से आप अपने मधुमेह को नियंत्रित कर सकते हैं।

10. इंफेक्शन से बचे | Avoid Infection

किशमिश भी आपको बीमारी से बचाकर स्वस्थ रहने में मदद कर सकता है। इसमें विभिन्न प्रकार के रोगाणुरोधी और जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो विभिन्न प्रकार की बीमारियों से शरीर की रक्षा करने में मदद कर सकते हैं। किशमिश का अर्क मौखिक बैक्टीरिया म्यूटन्स स्ट्रेप्टोकोकस (मुख्य बैक्टीरिया जो दांतों की सड़न का कारण बनता है) का मुकाबला करके मुंह को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है।

इसे भी पढ़े

तांबे के वर्तन में पानी पीने के फायदे और नुकसान

चुकंदर के फायदे और नुकसान 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments