भूत की एक सच्ची कहानी | Bhoot ki Kahani | Ghost Story in Hindi

ये कहानी भेजी हुई है मुंबई के रहने वाले आदित्य की जब इनके साथ अजीब अजीब सी घटना होने लगी तब जाकर इन्हें भूत प्रेत (Bhoot ki Kahani) जैसे चीजों पर यकीन हुआ।

एक बार की बात है कि जब रात को आदित्य अपने बेड पर जब सोया हुआ था तभी उसकी नींद खुल गयी और उसने देखा कि अंधरे में उसके दरवाजे के बगल से कोई गुजर रहा हो, उस समय कमरे की लाइट बन्द थी इसलिए अंधेरे में आदित्य को सब कुछ उतना साफ नही दिखा इसीलिए उसने इस बात पे उतना गौर नही किया और फिर जाकर सो गया।

लेकिन अगली रात जब आदित्य सो रहा था तो फिर उसकी नींद खुल गयी लेकिन इस बार आशिष को ऐसा लगा कि उसे किसी ने नींद से जगा दिया हो लेकिन वहां कोई नही था।

इसे भी पढ़ें:- Raat ki Dayan ki Kahani | परछाई | Ghost Story in Hindi

आदित्य को उस वक्त थोड़ा डर सा महसूस होने लगा, आदित्य को ऐसा पहले कभी नही महसूस हुआ था उसने चारों ओर अच्छे से देखा लेकिन कोई भी उसे दिखा,
आदित्य ने कमरे में जैसे ही लाइट ऑन की तो उसने देखा कि कोई व्यक्ति उसके कमरे से बाहर जा रहा है , आदित्य जैसे ही उसके पीछे गया तो वो व्यक्ति वहां से गायब हो गया।

आदित्य को अपने आंखों पे यकीन नही हो रहा था कि ये सब सच है क्यों कि आदित्य इन भूत प्रेत जैसी चीजों पर यकीन नही करता था।

इसे भी पढ़ें:- भूत प्रेत और बाधा – Ghost and Obstacle In Hindi

लेकिन आज सच मे आदित्य का पाला एक भूत से पड़ गया था आशिष ने सोचा कि मैं जाकर अपने पिताजी को उठाता हूं और जैसे ही वो उनके कमरे तक जाने लगा तो अचानक वो व्यक्ति उसके सामने आ गया वो व्यक्ति एक फटा सा गंदी चादर ओढ़े हुए था और उसका चेहरा भी बहुत डरावना था।

आदित्य उसे देखकर बेहोश हो गया। सुबह जब उसके घरवाले ने देखा तो एकदम से घबरा गए उन्हें लगा आखिर ये यहां क्यों सोया हुआ है।

लेकिन जब आदित्य को होश आया तो उसने सारी बात अपने घरवालों को बताया तब से जाकर आदित्य को भूत प्रेत पर यकीन होने लगा कि ये सब भी इस संसार मे मौजूद हैं। ये सब चीज़ एक भटकती आत्मा (Bhoot ki Kahani) होती है जो किसी को भी दिख सकती है।

इसे भी पढ़ें:- भूतिया कमरा | Horror Stories in Hindi | Ghost Story