Wednesday, December 7, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीसोयाबीन के फायदे | benefits of soybeans

सोयाबीन के फायदे | benefits of soybeans

सोयाबीन (soybeans) एक प्रकार की दाल है जिसका उपयोग भोजन और तेल बनाने के लिए किया जाता है। यह पोषक तत्वों से भरपूर खजाना है जो शरीर को अच्छे आकार में रखता है। सोयाबीन को पौधों पर आधारित प्रोटीन का सबसे बड़ा स्रोत माना जाता है। इसलिए शाकाहारियों को इसे अपने आहार में शामिल करना चाहिए। इसमें मौजूद प्रोटीन और आइसोफ्लेवोन्स (एक प्रकार का बायोएक्टिव इंग्रीडिएंट) हड्डियों को खराब होने से बचाने में मदद करते हैं। जल्द ही फ्रैक्चर होने का कोई खतरा नहीं है।

सोयाबीन दिमाग को तेज करने में मदद करता है। अगर आप सोयाबीन (soybeans) खाना शुरू कर देंगे तो आपको हृदय रोग नहीं होगा। अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आपको रोजाना सोयाबीन का सेवन करना चाहिए। सोयाबीन में लेसिथिन होता है, जो लीवर के लिए अच्छा होता है।

सोयाबीन को सब्जी के रूप में या पराठे के रूप में खाया जा सकता है, या इसे कटलेट या दूध में मिलाया जा सकता है। नाश्ते के तौर पर सोयाबीन भी काफी सेहतमंद होता है। प्रोटीन के अलावा सोयाबीन में फाइबर, मिनरल्स और फाइटोएस्ट्रोजेन भी शामिल हैं। इसके अलावा इसमें सैचुरेटेड फैट की मात्रा कम होती है।

इसे भी पढ़े

संतरे के फायदे और नुकसान

वजन और मोटापा घटाने के उपाय

सोयाबीन के पोषक तत्व

पोषक तत्व मात्रा प्रति 100 G
पानी 67.5 g
ऊर्जा 147 kcal
प्रोटीन 12.95 g
टोटल लिपिड (फैट) 6.8 g
कार्बोहाइड्रेट 11.05 g
फाइबर , टोटल डाइटरी 4.2 g
मिनरल्स
कैल्शियम ,Ca 197 gm
आयरन ,Fe 3.55 mg
मैग्नीशियम , Mg 65 mg
फास्फोरस ,P 194 mg
पोटैशियम ,K 620 mg
सोडियम ,Na 15 mg
जिंक ,Zn 0.99 mg
विटामिन्स
विटामिन सी , टोटल एस्कॉर्बिक एसिड 29 mg
थाइमिन 0.435 mg
राइबोफ्लेविन 0. 175 mg
नियासिन 1.65 mg
विटामिन बी -6 0. 065 mg
फोलेट DFE 165 µg
विटामिन ए ,RAE 9 µg
विटमिन ए ,IU 180 IU
लिपिड
फैटी एसिड्स , टोटल सैचुरेटेड 0. 786 g
फैटी एसिड्स टोटल मोनोसैचुरेटेड 1.284 g
फैटी एसिड्स , टोटल पोलयूंसैचुरेटेड 3.2 g


सोयाबीन का क्या अर्थ होता है? What does soybean mean?

सोयाबीन (soybeans) के बीज हल्के रंग के होते हैं। इनका सेवन शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के सुधार में सहायक होता है। यह मूल रूप से चीन में उगाया गया था, लेकिन अब यह पूरे एशिया में व्यापक रूप से उपलब्ध है। सोयाबीन वसा का अच्छा और सस्ता स्रोत है। इसका उपयोग दूध, टोफू, सोया सॉस और बीन पेस्ट बनाने के लिए किया जाता है। सोयाबीन में पाए जाने वाले गुणों के कारण डॉक्टर भी सोयाबीन खाने की सलाह देते हैं।

सोयाबीन के फायदे | benefits of soybeans

सोयाबीन के कई फायदे हैं, और हम नीचे उनमें से कुछ के बारे में जानेंगे। इन तथ्यों को जानने के बाद आप निश्चित रूप से सोयाबीन को अपने आहार में शामिल करना चाहेंगे।

1. सोयाबीन के मधुमेह के लाभ | Diabetes Benefits of Soybean

मीठे भोजन का सेवन मधुमेह के लक्षणों को बढ़ा सकता है। यह निम्न ग्लाइसेमिक इंडेक्स खाद्य श्रेणी से संबंधित है, जिसका अर्थ है कि इसमें कम कार्बोहाइड्रेट और वसा की मात्रा होती है। नतीजतन, मधुमेह के इलाज में सोयाबीन खाना फायदेमंद हो सकता है। इसमें एक प्रोटीन होता है जो ग्लूकोज को नियंत्रित करता है और इंसुलिन (insulin) बाधा को कम कर सकता है।

2. हड्डियाँ बनाना | Making Bones

सोयाबीन (soybeans) हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। यह एस्ट्रोजन (आमतौर पर महिला हार्मोन के रूप में जाना जाता है) और हड्डियों की सुरक्षा के उत्पादन में भी सहायता करता है। सोयाबीन में फाइटोएस्ट्रोजेन होते हैं, जो हड्डियों को खराब होने से बचा सकते हैं।

3. सोयाबीन के हृदय स्वास्थ्य लाभ | Heart Health Benefits of Soybeans

सोयाबीन आपके दिल के लिए अच्छा है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो सूजन और हृदय रोग की रोकथाम में सहायता करते हैं। सोयाबीन खाने से ब्लड सर्कुलेशन को खराब करने वाले रेडिकल्स को कम किया जा सकता है। यह निष्कर्ष निकालना संभव है कि सोयाबीन खाने से हृदय रोग को रोकने में मदद मिल सकती है।

4. वजन कम करने के लिए | To Lose Weight

एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार सोयाबीन खाने से आपको वजन और चर्बी कम करने में मदद मिल सकती है। सोयाबीन प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ, जिन्हें पचाने के लिए शरीर को अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। यह शरीर को ऊर्जा का कुशलतापूर्वक उपयोग करने और वसा के उत्पादन को रोकने में सहायता कर सकता है। थर्मोजेनिक खाद्य पदार्थों के समूह में प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ शामिल हैं । इसके सेवन के अलावा व्यायाम पर भी ध्यान देना जरूरी है।

5. कैंसर से लड़ने के लिए | To Fight Cancer

जब सोयाबीन के लाभों की बात आती है, तो उनमें से एक कैंसर की रोकथाम है। जैसा कि आप जानते ही होंगे सोयाबीन में आइसोफ्लेवोन्स (एक प्रकार का रासायनिक यौगिक) प्रचुर मात्रा में होता है। इसके अलावा, सोयाबीन फाइटोकेमिकल्स के एक सेट का प्राथमिक स्रोत है। इस संदर्भ में ये दोनों घटक कैंसर रोधी एजेंट के रूप में कार्य कर सकते हैं। सोयाबीन के सेवन से स्तन और गर्भाशय के कैंसर का खतरा कम हो सकता है।

6. कोलेस्ट्रॉल प्रबंधन | Cholesterol Management

जब सोयाबीन के लाभों की बात आती है, तो हमें यह उल्लेख करना चाहिए कि वे कोलेस्ट्रॉल के लिए भी अच्छे हैं। सोयाबीन के बीजों में आइसोफ्लेवोन्स होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। सोयाबीन का सेवन खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है जबकि अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर पर कोई हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ता है।

7. सोयाबीन के रक्तचाप के लाभ | Soybean Blood Pressure Benefits

सोयाबीन (soybeans) में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है। इससे प्राप्त सप्लीमेंट्स लेकर सिस्टोलिक और डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करना संभव है। एक शोध जांच में यह भी सामने आया है कि सोयाबीन प्रोटीन सप्लीमेंट का इस्तेमाल हाई ब्लड प्रेशर को मैनेज करने के लिए किया जा सकता है|

8. मासिक धर्म के लिए फायदेमंद | Beneficial for Menstruation

सोया उत्पादों में पाए जाने वाले प्लांट एस्ट्रोजन जैसे रसायन शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन के उत्पादन में सहायता करते हैं। इसके सेवन से मासिक धर्म नियमित रूप से होता है। इसके परिणामस्वरूप बांझपन और रजोनिवृत्ति से पहले की समस्याओं को भी कम किया जा सकता है। मासिक धर्म के दौरान, कुछ महिलाओं को कष्टार्तव का अनुभव होता है।

9. अनिद्रा और अवसाद में मदद करने के लिए | To Help With Insomnia and Depression

सोयाबीन में फाइटोएस्ट्रोजेन शामिल हैं, जिनकी रासायनिक संरचना मानव एस्ट्रोजन के समान है। अध्ययन के अनुसार सोयाबीन खाने से नींद अच्छी हो सकती है। पर्याप्त नींद लेने से भी आप अपने अवसाद को दूर कर सकते हैं। चूंकि बुजुर्गों में अवसाद का शिकार होना आम बात है, इसलिए सोयाबीन खाना उनके लिए फायदेमंद हो सकता है।

10. त्वचा के अनुकूल | Skin Friendly

सोयाबीन के बीजों में सूजन-रोधी और कोलेजन (प्रोटीन समूह) गुण होते हैं। ये सभी चीजें त्वचा को कोमल और जवां बनाए रखने का काम करती हैं। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट की वजह से यह आपकी त्वचा को अल्ट्रा वायलेट किरणों से भी बचाता है। क्रीम के रूप में इस्तेमाल करने पर यह त्वचा में भी निखार लाता है।

इसे भी पढ़े

चेहरे पर चमक लाने के लिए जूस

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments