Wednesday, December 7, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीप्लेटलेट्स (platelets) बढ़ाने का घरेलु उपाय | home remedies to increase platelets

प्लेटलेट्स (platelets) बढ़ाने का घरेलु उपाय | home remedies to increase platelets

शरीर के सभी अंग और कोशिकाएं समान हैं, और वे सभी हमें स्वस्थ और लंबा जीवन प्रदान करने के लिए मिलकर काम करती हैं। हमारे शरीर में प्लेटलेट्स (platelets) की उचित मात्रा सुनिश्चित करके रक्त में प्लेटलेट्स हमें स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं| प्लेटलेट्स के अपर्याप्त या गैर-उत्पादन के परिणामस्वरूप शरीर अक्सर कई बीमारियों और बीमारियों की चपेट में आ जाता है।

डेंगू के संक्रमण से मरीज के प्लेटलेट्स (platelets) कम होने लगते हैं। एक स्वस्थ व्यक्ति के रक्त में प्रति माइक्रोलीटर एक लाख पचास हजार से चार लाख पचास हजार प्लेटलेट्स होते हैं। जब वे एक लाख पचास हजार से कम होते हैं, तो यह माना जाता है कि व्यक्ति में प्लेटलेट्स की मात्रा कम हो गई है। डेंगू और चिकनगुनिया जैसे संक्रमण में प्लेटलेट्स की मात्रा काफी कम हो जाती है।

ऐसे में अगर उनकी गिरावट को नियंत्रित नहीं किया गया तो स्थिति तेजी से बिगड़ सकती है। आप कुछ आहारों का पालन करके अपने प्लेटलेट काउंट को बढ़ा सकते हैं। ये आपकी प्लेटलेट काउंट को स्वाभाविक रूप से बढ़ाने में आपकी मदद कर सकते हैं। ऐसे ही कुछ आहारों के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े

मॉर्निंग वॉक के फायदे 

शाम को टहलने के फायदे

प्लेटलेट्स क्या हैं | what are platelets

लाल रक्त कोशिकाएं, श्वेत रक्त cells और कोशिकाएं हैं। प्लेटलेट्स (platelets), जिन्हें आमतौर पर थ्रोम्बोसाइट्स के रूप में जाना जाता है, रक्त कोशिका के छोटे टुकड़े होते हैं। ये आपके बोन मैरो में बनते हैं, जो स्पंज जैसा टिश्यू होता है जो आपकी हड्डियों के अंदरूनी हिस्से को लाइन करता है। रक्त जमावट के लिए प्लेटलेट्स भी महत्वपूर्ण हैं।

प्लेटलेट्स छोटी रक्त कोशिकाएं होती हैं जो अस्थि मज्जा के मज्जा में पाई जाती हैं। हमारे शरीर में प्लेटलेट्स का न होना इस बात का संकेत है कि हमारे शरीर की रक्त में रोगों से लड़ने की क्षमता क्षीण होती जा रही है। थ्रोम्बोसाइटोपेनिया कम प्लेटलेट गिनती के लिए चिकित्सा शब्द है।

जब आपकी रक्त वाहिकाओं में से एक क्षतिग्रस्त हो जाती है, तो आप आमतौर पर खून बहने लगती हैं। आपके प्लेटलेट्स रक्त वाहिका को खोलने और रक्तस्राव को रोकने में सहायता करते हैं। प्लेटलेट्स का घनत्व 150,000 से 450,000 प्रति माइक्रोलीटर होना चाहिए।

प्लेटलेट बढ़ाने के घरेलू उपचार | home remedies to increase platelets

1. पपीते के पत्ते या पपीता | Papaya leaves or papaya

पपीते (Papayas) के पत्ते या 150 से 200 ग्राम पपीता (Papayas)

उपयोग:-

  • पपीते का छिलका निकाल कर तुरंत खाएं।
  • पपीते के पत्तों को पानी में उबाल कर पिएं।
  • प्लेटलेट (platelet) काउंट तेजी से बढ़ाने के लिए, पपीते के पत्तों का अर्क (leaf extract) और फल दोनों का सेवन (intake) करें।
  • यह प्रक्रिया दिन में एक या दो बार की जा सकती है जब तक कि प्लेटलेट काउंट में सुधार न हो जाए।
2. अनार | Pomegranate

अनार फल

उपयोग:-

  • अनार को आधा काट लें और बीज निकाल दें।
  • इसे नाश्ते के रूप में या सलाद के हिस्से के रूप में खाया जा सकता है।
  • अनार के बीजों को निचोड़कर, रस निकाल कर सेवन भी किया जा सकता है।
  • ध्यान रहे कि रस निकालने के आधे घंटे के भीतर ही इसका सेवन कर लेना चाहिए।
  • आप इसे अपने आहार में तब तक शामिल कर सकते हैं जब तक कि आपका प्लेटलेट्स (platelets) काउंट नहीं बढ़ जाता।
3. ओमेगा -3 मछली का तेल | Omega-3 Fish Oil

मछली का तेल , ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक अच्छा स्रोत है।

उपयोग:-

  • रोजाना दो से तीन ग्राम मछली के तेल का सेवन करना चाहिए।
  • अगर आपको मछली के तेल का स्वाद पसंद नहीं है, तो आप इसके बजाय मछली के तेल के कैप्सूल ले सकते हैं।
  • इस विधि को हर दिन दोहराएं जब तक कि शरीर की प्लेटलेट काउंट अपर्याप्त न हो जाए।
4. कद्दू का रस | Pumpkin Juice

आधा गिलास कद्दू का रस

उपयोग:-

  • सबसे पहले कद्दू को धोकर छील लें।
  • अब कद्दू को छोटे छोटे टुकड़ों में काट कर सावधानी से पीस लें।
  • अब इसमें से आधा गिलास ताजा जूस निकाल लें।
  • इसे एक चम्मच शहद के साथ स्वाद दिया जा सकता है।
  • कद्दू को उबालकर और स्मूदी, सूप और अन्य व्यंजनों में मिलाकर भी इसका सेवन किया जा सकता है।
  • जब तक प्लेटलेट काउंट में सुधार नहीं होता है तब तक इसका सेवन दिन में दो या तीन बार किया जा सकता है।
5. गेहूं | Wheat

गेहूँ की घास का प्रयोग

उपयोग:-

  • गेहूं की घास को धोकर बारीक पीस लें।
  • अब रस निकालने के लिए पेस्ट को निचोड़ लें।
  • यदि आवश्यक हो तो पानी की कुछ बूंदों को जोड़ा जा सकता है।
  • लगभग आधा कप जूस निकलने के बाद इसे पी लें।
  • व्हीटग्रास जूस का स्वाद बढ़ाने के लिए इसमें नींबू के रस की कुछ बूंदें मिला सकते हैं।
  • इसे दिन में एक बार तब तक लिया जा सकता है जब तक कि प्लेटलेट्स (platelets) काउंट पर्याप्त न हो जाए।

इसे भी पढ़े

स्टैमिना कैसे बढ़ाये

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments