Friday, December 2, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीसिर दर्द (headache) के लिए योग | yoga for headache

सिर दर्द (headache) के लिए योग | yoga for headache

कई बार आपको कोई काम समय पर खत्म करना होता है और इससे आपको सिरदर्द (headache) हो जाता है, लेकिन इससे ज्यादा परेशानी कभी नहीं होती। यद्यपि कई दर्द निवारक उपलब्ध हैं, बहुत अधिक दवा का उपयोग करने से शरीर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। अधिकांश व्यक्ति सिरदर्द को एक छोटी सी समस्या के रूप में खारिज कर देते हैं। हालांकि यह समस्या कभी-कभी गंभीर भी हो सकती है।

अत्यधिक तनाव, थकावट, लंबे समय तक भूखा रहना, कम सोना आदि चीजों से हमें सिरदर्द (headache) हो सकता है। यदि आपके जीवन में सिरदर्द एक नियमित घटना है, तो नियमित रूप से दवा लेना घातक हो सकता है।

लोगों को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने में मदद करने के लिए योग को वैज्ञानिक रूप से दिखाया गया है। कई मुद्दों का समाधान भी हो सकता है। इन्हीं में से एक समस्या है सिरदर्द। आए दिन इस समस्या से सभी को जूझना पड़ता है। इससे बचने का सबसे आसान तरीका है योग का अभ्यास। अब प्रश्न यह है कि सिर में दर्द न हो और हो भी जाए तो उसे कम करने के लिए कौन से योगासन करें?

इसे भी पढ़े

वजन कम करने के लिए पपीते का उपयोग

मानसिक स्वास्थ्य क्या हैं?

सिर दर्द के लिए योग के क्या लाभ हैं? What are the benefits of yoga for headache?

योग को सिरदर्द (headache) का इलाज माना जा सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, योग को सिरदर्द की चिकित्सा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। यह सिरदर्द से राहत के अलावा चिंता और उदासी में भी मदद कर सकता है। इससे आपको अपने दिमाग को शांत रखने में मदद मिल सकती है। यह सिरदर्द को समस्या बनने से रोकने में मदद कर सकता है।

सिर दर्द (headache) के लिए योग | yoga for headache

योग को सही तरीके से करने पर ही इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। ऐसे में लोग सिरदर्द (headache) के प्रभाव से बचने या कम करने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया के अनुसार योग का अभ्यास कर सकते हैं।

1. बालासन | Balasan

बालासन दो शब्दों से मिलकर बना है, जिनमें से पहला बाल और दूसरा आसन है। बाल एक बच्चे को दर्शाता है, और आसन एक स्थिति को दर्शाता है। इस आसन में शरीर की मुद्रा मां के गर्भ में बच्चे की स्थिति से मेल खाती है। नतीजतन, इसे बालासन के रूप में जाना जाता है। इस योग के अभ्यास से सिर में रक्त संचार बढ़ाया जा सकता है। यह मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बनाए रखने में भी सहायता कर सकता है । यह सिरदर्द (headache) की संभावना को कम करने में मदद कर सकता है।

2. विरासन | Inheritance

सुप्त वीरसन शब्द संस्कृत से लिया गया है और इसका अर्थ है “नायकों की नींद की सीट।” सुप्त विरासन एक और योगासन है जो सिरदर्द में मदद कर सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार माइग्रेन को कम करने वाले योग में सुप्त विरसाना नाम भी शामिल है। इस मामले में, सुप्त विरासन को सिरदर्द योग के रूप में संदर्भित किया जा सकता है।

3. पदंगुष्ठासन | Padangusthasana

पदंगुष्ठासन संस्कृत के दो शब्दों से मिलकर बना है, जिनमें से पहला पद है, जिसका अर्थ है पैर, और दूसरा अंगुष्ठ, जिसका अर्थ है अंगूठा। इस आसन को करते समय व्यक्ति को शरीर के वजन को एक पैर से सहारा देना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इस आसन को करने से सिरदर्द (headache) में आराम मिलता है।

4. विपरीत दिशा में जाएं | Go in the opposite direction

विपरीत करणी को योग में सिरदर्द के उपचार के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, योग माइग्रेन जैसे सिरदर्द का इलाज करने के लिए सिद्ध हुआ है। उनमें से एक विपरीत दिशा में जाना है। यही कारण है कि इस आसन को “सिरदर्द के योग” के रूप में जाना जाता है।

5. पश्चिमोत्तानासन | Paschimottanasana

पश्चिमोत्तानासन दो शब्दों का मिश्रण है, जिनमें से पहला पश्चिम और दूसरा उत्तान है। पीछे की ओर पश्चिम है, और खिंचाव उत्तान है। पश्चिमोत्तानासन के अभ्यास के लाभों में सिरदर्द (headache) से राहत शामिल है। इस क्षेत्र में प्रकाशित वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, पश्चिमोत्तानासन को सिरदर्द के उपचार में उपयोगी माना जा सकता है।

इसे भी पढ़े

स्लिप डिस्क के लक्षणों और इलाज 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments