Wednesday, December 7, 2022
Homeस्वास्थ्य और तंदुरुस्तीपनीर के फायदे और नुकसान | Advantages and disadvantages of paneer

पनीर के फायदे और नुकसान | Advantages and disadvantages of paneer

यह असंभव है क्योंकि पनीर (paneer) किसी पार्टी, उत्सव या समारोह में मौजूद नहीं है। पनीर खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ कई स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है। पनीर के स्वास्थ्य लाभों के बारे में अधिक जानने के लिए इस post को देखें। पनीर के फायदों के साथ-साथ हम यह समझाने की कोशिश करेंगे कि पनीर के ज्यादा इस्तेमाल से क्या नुकसान हो सकते हैं। नतीजतन, पनीर खाने के फायदे और नुकसान के बारे में सब कुछ जानने के लिए तुरंत post पढ़ना शुरू करें।

इसे भी पढ़े

शहद और दूध के फायदे और नुकसान

टमाटर खाने के फायदे और नुकसान

पनीर के पोषक तत्व

पोषक तत्व मात्रा
ऊर्जा 321 केसीएएल
प्रोटीन 21.43 ग्राम
टोटल लिपिड (फैट) 25 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 3.57 ग्राम
शुगर 3.57 ग्राम
कैल्शियम 714 मिलीग्राम
सोडियम 18 मिलीग्राम
विटामिन-ए आईयू 714 आईयू
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड 16.07 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल 89 मिलीग्राम

पनीर क्या है? What is cheese?

यह भारत के सबसे लोकप्रिय डेयरी (popular dairy) उत्पादों में से एक है। यह गाय के दूध, भैंस के दूध, सोया दूध और बकरी के दूध सहित विभिन्न प्रकार के दूध से बनाया जाता है। पनीर एक पोषक तत्व से भरपूर पनीर (paneer) है जो प्रोटीन (protein), कैल्शियम (calcium), फास्फोरस (Phosphorus) और विटामिन ए (Vitamin A) और Vitamin D से भरपूर होता है। अंग्रेजी में इसे कॉटेज चीज (cottage cheese) या सॉफ्ट चीज (soft cheese) भी कहते हैं।

पनीर के फायदे | benefits of cheese

जब पनीर के फायदे और गुणों की बात आती है, तो इसे पोषक तत्वों का भंडार माना जाता है। पनीर कई तरह की प्रमुख शारीरिक समस्याओं में मदद कर सकता है। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि पनीर किसी भी स्थिति के लिए एक व्यापक समाधान नहीं है, यह केवल मुद्दों को रोकने और उनके प्रभावों को कुछ हद तक (Till the limit) कम करने में मदद (help) कर सकता है:-

1 . प्रोटीन से भरपूर पनीर | Protein rich cottage cheese

प्रोटीन एक पोषक तत्व है जिसे शरीर को ठीक से काम करने की आवश्यकता होती है। प्रोटीन मांसपेशियों की वृद्धि के साथ-साथ शरीर को ऊर्जा प्रदान करने के लिए भी आवश्यक है। प्रोटीन स्वस्थ वजन बनाए रखने में भी मदद कर सकता है। अगर हम प्रोटीन युक्त आहार की बात कर रहे हैं तो इस परिस्थिति में पनीर एक उपयुक्त विकल्प हो सकता है। पनीर एक उच्च प्रोटीन वाला भोजन है। इस मामले में प्रोटीन की आपूर्ति के लिए पनीर का सेवन बच्चों (kids), वयस्कों (adults) और बुजुर्गों (elderly)द्वारा किया जा सकता है।

2. रक्तचाप नियंत्रण के लिए पनीर | Paneer for Blood Pressure Control

पनीर के फायदे रक्तचाप (Blood Pressure) को कम करने में भी इस हिंदी लेख में पनीर पर देखे जा सकते हैं। उच्च रक्तचाप (Blood Pressure) हाल के वर्षों में एक व्यापक चिंता का विषय रहा है। ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए इस स्थिति में अपने खान-पान पर अतिरिक्त ध्यान देना बेहद जरूरी है। अगर हम उच्च रक्तचाप वाले आहार के बारे में बात कर रहे हैं, तो पनीर एक अच्छा अतिरिक्त हो सकता है। पनीर को उच्च रक्तचाप वाले लोगों की मदद करने के लिए दिखाया गया है।

3. हड्डी और दांतों को मजबूत बनाने के लिए पनीर | Paneer to strengthen bones and teeth

जैसे-जैसे आप बड़े होते हैं अपने दांतों और हड्डियों की देखभाल करना भी महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि वे खराब होने लगते हैं। इस स्थिति में दांतों और हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए कैल्शियम (calcium) सबसे महत्वपूर्ण खनिजों में से एक है।

4. आपके पाचन तंत्र के लिए | for your digestive system

पनीर पेट और आंतों के लिए भी अच्छा होता है। पाचन में सहायता के लिए कभी-कभी प्रोबायोटिक्स (Probiotics) की आवश्यकता होती है। प्रोबायोटिक्स (Probiotics) फायदेमंद बैक्टीरिया (bacteria) हैं जो किण्वित खाद्य पदार्थों और पूरक आहार में पाए जा सकते हैं।

5. मधुमेह के अनुकूल | Diabetes Friendly

जो लोग मधुमेह (Diabetes) से जूझ रहे हैं, उनमें आहार को लेकर बहुत भ्रम है। ऐसे में डायबिटिक लोग बेझिझक पनीर को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। दूसरी ओर, डॉक्टर कभी-कभी मधुमेह (Diabetes) रोगियों को पनीर खाने के लिए कहते हैं। साथ ही, शोध के अनुसार, बच्चे के आहार में डेयरी उत्पादों को शामिल करने से मोटापे की संभावना को कम करने में मदद मिल सकती है, जो बदले में मधुमेह (Diabetes) जैसे विकारों के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

6. मांसपेशियों के लिए | For Muscles

आइए अब इस पनीर के पोस्ट में मांसपेशियों से जुड़े फायदों के बारे में चर्चा करते हैं। पनीर में फैट, कैल्शियम, प्रोटीन और अन्य विटामिन और मिनरल सभी पाए जाते हैं । दूसरी ओर, प्रोटीन को मानव शरीर के लिए एक आवश्यक भोजन माना जाता है। प्रोटीन मांसपेशियों के साथ-साथ शरीर को ऊर्जा प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण है । दूसरी ओर, पनीर प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है। ऐसे में यह Argument दिया जा सकता है कि आहार में शामिल मांसपेशियों को प्रोटीन की आपूर्ति के लिए स्वस्थ बनाया जा सकता है।

7. पनीर में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। Paneer is rich in antioxidants.

कच्चे पनीर में एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidants) गुण स्वास्थ्य के लिए अविश्वसनीय रूप से फायदेमंद हो सकते हैं । आपको बता दें कि एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidants) से भरपूर आहार खाने से आपके शरीर को फ्री रेडिकल्स (radicals) से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद मिल सकती है।

8. विटामिन के और डी प्रचुर मात्रा में होता है। Vitamin K and D are abundant.

पनीर विटामिन डी (vitamin D) और विटामिन के (Vitamin K) में उच्च है। ये विटामिन हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए सबसे महत्वपूर्ण खनिजों में से दो हैं। विटामिन डी शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में सहायता करता है। वहीं, विटामिन-के शरीर में प्रोटीन के उत्पादन में मदद कर सकता है, जिससे हड्डियां और मांसपेशियां स्वस्थ रहती हैं।

9. वजन घटाने के लिए पनीर | Paneer for Weight Loss

आइए इस पोस्ट में पनीर के वजन घटाने के फायदों के बारे में बात करते हैं पनीर के फायदों के बारे में। पनीर लोगों को वजन कम करने में मदद करने के लिए दिखाया गया है। पनीर वास्तव में प्रोटीन का अच्छा स्रोत है। प्रोटीन युक्त आहार खाने के बाद व्यक्ति को लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस कराकर प्रोटीन वजन घटाने में मदद कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप कम से कम भूख लगती है।

10. डिप्रेशन से बचने के लिए | To Avoid Depression

जब तनाव कम करने की बात आती है, तो अच्छा खाना फायदेमंद हो सकता है। कुछ हद तक, एक संतुलित आहार Depression को रोकने में मदद कर सकता है। ऐसी स्थिति में पनीर को अपने आहार में शामिल करना एक व्यवहार्य विकल्प है। दरअसल पनीर में ट्रिप्टोफैन (tryptophan) नाम का प्रोटीन होता है, जो न्यूरोट्रांसमीटर सेरोटोनिन (neurotransmitter serotonin) में बदल जाता है। यह एक अणु है जो किसी व्यक्ति के मूड को Revise करने के लिए आवश्यक है और केवल भोजन के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है। ऐसी स्थिति में अपना मनोबल बढ़ाने के लिए पनीर को ओट्स (oats) के साथ खाया जा सकता है।

पनीर खाने के नुकसान | side effects of eating cheese

किसी भी पदार्थ का अत्यधिक सेवन नकारात्मक परिणाम (negative consequences) दे सकता है। इसी तरह, पनीर (paneer) के कई फायदे हैं, लेकिन अधिक उपयोग से कुछ कमियां हो सकती हैं। ऐसी स्थिति में अत्यधिक उपयोग से होने वाले पनीर के नुकसान के बारे में हम जानकारी प्रदान कर रहे हैं:-

  • लैक्टोज असहिष्णुता (lactose intolerance) वाले लोगों में कॉटेज पनीर एलर्जी का कारण बन सकता है। इस तथ्य के बावजूद कि पनीर में न्यूनतम मात्रा में लैक्टोज होता है, फिर भी इसे कम मात्रा में खाना सबसे अच्छा है।
  • पनीर प्रोटीन का अद्भुत स्रोत है, फिर भी, इस मामले में, बहुत अधिक सिरदर्द, भूख न लगना और थकान पैदा कर सकता है।
  • दूध से बने पनीर का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें खतरनाक बैक्टीरिया (dangerous bacteria) होते हैं जो गर्भवती महिलाओं में गर्भपात का कारण बन सकते हैं।
  • दूध से भरपूर आहार कुछ लोगों को मुंहासों के प्रति अधिक संवेदनशील (Sensitive) बना सकता है। इस मामले में पनीर खाने से भी मुंहासे हो सकते हैं।

इसे भी पढ़े

कच्चे केले के 8 फायदे ,उपयोग और नुकसान

सरसों के साग के फायदे और नुकसान

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments