Friday, July 1, 2022
Homeखाना पीनाआलू और प्याज को अंकुरित होने से कैसे बचाएं | How to...

आलू और प्याज को अंकुरित होने से कैसे बचाएं | How to Prevent Potatoes and Onions from Sprouting

आलू और प्याज को अंकुरित होने से कैसे रोकें

आलू और प्याज (Potatoes and Onions) अक्सर हर खाने का अहम हिस्सा होते हैं. इनके इस्तेमाल (Used) से खाने का स्वाद बढ़ता है. ऐसे में इन्हें सुरक्षित (Safe) रखना भी बेहद जरूरी (Extremely Urgent) होता है|

आलू और प्याज को अंकुरित होने से रोकने के टिप्स | Potatoes and Onions

  •  आलूओं (Potatos) को कागज के लिफाफे में रखें.
  • इन्हें अंधेरे और ठंडी जगह (Dark and cold place) पर ही रखें.
  • अगर आलू (Potato) पर ऊपर से नमी है यानी भीगा हुआ है तो अच्छे से पोंछ लें.
  • आप आलूओं (Potato) को एक सूती कपड़े के बैग में भी रख सकते हैं.
  • गरम जगह पर आलू और प्याज (Potato and Onion) स्टोर करने से ये अंकुरित होने लगते हैं.
  • प्याज (Onion) को हवादार जगह पर ही रखें जिससे इनमें फफूंदी न लगे.
  • आलू और प्याज (Potato and Onion) दोनों को बाकी की सब्जियों और फलों की टोकरी से दूर ही रखना चाहिए.
  • आलू और प्याज (Potato and Onion) दोनों को आपस में भी न रखें

इसे भी पढ़े:- प्याज के चौंका देने वाले फायदे

कैसे घर पर आलू को स्टोर करें | How to store Potato at Home

आलू (Potato) एक ऐसी सब्जी (Vegetable) हैं जो कि दुनिया के हर कोने में पाया जाता हैं और ज्यादातर घरों में सबसे ज्यादा जो सब्जी उपयोग में ली जाती हैं, वो आलू ही हैं। जिस तरह आम फलों का राजा है उसी तरह आलू (Potato) भी सब्जियों का राजा (King of Vegetables) है। लेकिन यहीं आलू (Potato) यदि हरा हो गया हैं या अंकुरित हो गया हैं तो यह हमारी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक (Harmful) रहता हैं। आलू बहुत जल्दी अंकुरित हो जाते हैं। अंकुरित हुए आलुओं का सेवन सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक (Harmful) रहता हैं। आइए, जानते हैं आलुओं (Potatos) को कैसे संग्रहीत करे ताकि आलू (Potato) ज्यादा समय तक अच्छे रहे और उनमें अंकुरण न हो…

अंकुरित आलू या हरा आलू खाने से नुकसान | Loss of Eating Sprouted Potato or Green Potato

आलूओं (Potatos) को कैसे स्टोर करें यह जानने के पहले हमें यह जानना जरुरी हैं कि हरा आलू या अंकुरित आलू (Sprouted potatoes) खाने के क्या-क्या नुकसान हैं। जब आलू अंकुरित (Sprouted potatoes) होता है तो इसमें एक रसायनिक क्रिया (Chemical action) होने लगती हैंं। इस दौरान इस प्रक्रिया में अंकुरित आलू (Potato) का कार्बोहाइड्रेट स्टार्च शुगर (Carbohydrate starch sugar) में बदलने लगता है और इसके साथ ही सोलानिन और अल्फा कैकोनिन (Solanin and Alpha Caconin) नाम के दो जहरीले तत्व बनते हैं। इसी वजह से आलू (Potato) बाहर से नरम होकर मुरझा जाता हैं। यह दोनों तत्व हमारे स्वास्थ्य (Health) के लिए बहुत हानिकारक होते हैं। ये हमारे पाचन तंत्र (Digestive System) को बुरी तरह हानि पहुंचाते हैं। अंकुरित आलू (Sprouted potatoes) या हरे आलू (Green potatoes) खाने से फूड प्वाइजनिंग (Food poisoning) का डर होता हैं। जब आलू (Potato) का रंग हरा हो जाए तो समझ जाना चाहिए कि आलू खराब हो गया है। हम हरे भाग को काटकर आलू (Potato) के बाकि के हिस्से का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन अंकुरित आलू (Sprouted potatoes) के साथ ऐसा नहीं हैं। मतलब हम आलू का अंकुरित (Germinated) भाग निकालकर बाकि का हिस्सा भी उपयोग में नहीं ले सकते!
आलू (Potato) उगते समय ही अंकुरित है, तो कोई बात नहीं लेकिन अगर काफी दिनों तक रखने के बाद वो अंकुरित (Germinated) हो गए हैं, तो उनका सेवन नहीं करना चाहिए।

आलू को कहां-कहां नहीं रखना चाहिए | Where should the potato be kept

• आलू फ्रिज में नहीं रखना चाहिए (Potatoes should not be kept in the fridge)-
ज्यादातर सब्जियों (vegetables) को हम ख़राब होने से बचाने के लिए फ्रिज में रख देते हैं। लेकिन आलू (Potato) कभी भी फ्रिज में नहीं रखना चाहिए क्योंकि आलू (Potato) में स्टार्च होता हैं जो फ्रिज में रखने से शुगर (Sugar) में बदल जाता हैं। स्टार्च (Starch) से बनी हुई शुगर (Sugar) के सेवन से कई तरह के कैंसर (Cancer) हो सकते हैं।
• आलुओं को फल के साथ ना रखें (Do not keep the potatoes with fruit)-
कई फल जैसे सेब (Apple), नाशपाती (Pear), और केले (Banana) इथाइलीन (Ethylene) नामक रसायन को उगलते हैं। इथाइलीन (Ethylene) के कारण आलू जल्दी ही अंकुरित हो सकते हैं, इसलिए फलों (fruits)  को कही और स्टोर करें।
• नमी वाले स्थानों और हवा नहीं पहुंचने वाले स्थानों पर आलू (Potato) नहीं रखना चाहिए क्योंकि इससे उनमें बहुत जल्दी अंकुरण होता हैं।
• आलू (Potato) को प्लास्टिक बैग (plastic bag) में नहीं रखना चाहिए क्योंकि प्लास्टिक बैग (plastic bag) की नमी से आलू (Potato) ख़राब हो जायेंगे।
• आलू (Potato) सूरज की रोशनी में नहीं रखने चाहिए मतलब आलू (Potato) खुले में टोकरी आदि में नहीं रखने चाहिए। इससे उनमें बहुत जल्दी अंकुरण (Germination) होता हैं।
आलू को कैसे स्टोर करें | How to store Potatoes
आलूओं (Potatos) का अंकुरण बहुत ही जल्दी होने लगता हैं। इसलिए हमारे लिए यह जानना बहुत ही जरुरी हैं कि आखिरकार हम आलूओं को कैसे स्टोर करें (How to store Potatoes and Onions) ताकि वे ज्यादा समय तक ख़राब न हो|
 
• आलू (Potato) को स्टोर करने से पहले यदि उनमें से कोई आलू (Potato) ख़राब हैं तो उसे अलग कर दीजिए क्योंकि एक सड़ा आलू (Rotten potato) अपने चारों ओर दूसरे आलुओं (Potatos) को संक्रमित (Infected) कर सकता हैं।
• आलू (Potato) को स्टोर करने से पहले कभी भी धोना नहीं चाहिए। क्योंकि इससे आलू (Potato) में नमी रह सकती हैं, जिससे वे जल्दी ख़राब हो जायेंगे।
• आलू (Potato) को हमेशा अंधेरे में और सूखी जगह (dry place) पर रखना चाहिए।
• आलू (Potato) को किसी ब्राउन पेपर बैग (Brown Paper Bag) में लपेटकर रखें। पेपर बैग को एयर टाइट (Air Tite) बंद नहीं करना हैं। बैग को सिर्फ़ उपर से मोड़ कर मुड़ा हुआ हिस्सा निचे की तरफ रख दीजिए। ब्राउन पेपर बैग (Brown Paper Bag) में आलू (Potato) कई दिनों तक अच्छे रहते हैं।
• यदि आपके पास पहले से ही आलू (Potato) हैं और आपने बाजार (Market) से और आलू (Potato) ला लिए हैं तो इन आलुओं (Potatos) को पुराने आलू में न मिलाएं। दूसरी पेपर बैग (Paper Bag) लेकर उसमें ये आलू रखे। अभी वाले आलू (Potato) की बैग नीचे रख कर उसके उपर पुरानी वाली बैग रखे ताकि पुराने वाले आलू (Old Potato) पहले उपयोग में लिए जा सके।
• यदि आपके पास ब्राउन पेपर बैग (Brown Paper Bag) नहीं हैं तो आप आलू (Potatoes and Onions) को अखबार में लपेटकर भी रख सकते हैं।
• यदि आपको आलू (Potato) को अखबार में लपेटकर रखना पसंद नहीं हैं तो आप आलू (Potato) को ब्राउन कार्डबोर्ड बॉक्स (brown cardboard box) में भी रख सकते हैं। लेकिन ध्यान दीजिए कि बॉक्स (Box) को एयर टाइट (Air tight) नहीं करना हैं।
दोस्तों (Friends), यदि आप आलुओं (Potatoes and Onions) को इन सरल तरीकों से स्टोर करेंगे तो आपके आलू  (Potatos)जल्दी अंकुरित (Germinated) नहीं होंगे जिससे आप कई बीमारियों से बच सकेंगे!!
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments